बार-बार छींक आने से हैं परेशान? नाक को अंदर तक…

कोलकाताः सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका है। इस मौसम में एलर्जी की समस्या बनी रहती है। ऐसे में बार-बार छींक आना बहुत ही आम है। इस समय नाक में कई तरह की परेशानी होती है खुजली, जलन के साथ छींक भी बहुत आती है इसकी वजह डैंडर, धूल, वायरस और बैक्टीरिया आदि हैं।
बहुत सारे लोग लगातार छींक के इलाज के लिए एलोपैथी और होम्योपैथी दवाओं की ओर रुख करते हैं, वहीं कई लोग घरेलू उपचार की मदद से भी इस समस्या को ठीक करने में विश्वास करते हैं। इन घरेलू उपचारों में ऐसी तकनीकें हैं जो आपको छींक को नियंत्रित करने में मदद कर सकती हैं।
सर्दी के मौसम में बार-बार छींक आने का इलाज करने के लिए ऐसे ही कुछ प्रभावी घरेलू उपचारों के बारे में जानें।

विटामिन सी का सेवन बढ़ाएं
एनसीबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, विटामिन सी एक एंटीहिस्टामाइन है, जो कई खट्टे फलों और सब्जियों में मिलता है। जिन लोगों को एलर्जी या अन्य कारणों से लगातार छींक आती रहती है उन्हें अपने आहार में विटामिन सी से भरपूर फूड को शामिल करना चाहिए। खट्टे फलों और सब्जियों के अलावा, विभिन्न पूरक आपको विटामिन सी के बढ़ते सेवन को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

कैमोमाइल चाय का सेवन करें
कैमोमाइल चाय न केवल थका देने वाले दिन भर की रूटीन के बाद आराम दिलाने में मदद करती है बल्कि छींक को रोकने में भी मदद करती है। पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर कैमोमाइल चाय में एलर्जी दूर करने के गुण भी होते है। फ्लू के दौरान एक कप कैमोमाइल चाय काफी फायदेमंद हो सकती है। इसी तरह छींक आने के दौरान यह चाय बहुत राहत पहुंचाती है।
इस तरीके से अपनी नाक बंद करें
यदि आपको बार-बार छींक आ रही है तो ऐसे में अपनी नाक को दोनों तरफ से दबाएं और 5-10 सेकंड के लिए बंद कर दें। यह आपकी नाक को राहत दे सकता है और छींक को भी कंट्रोल कर सकता है। जब आप अपनी नाक को दोनों तरफ से दबाते हैं, तो बेहतर रिजल्ट के लिए छत की ओर देखना सही है।
मुंह से अजीब सी आवाज निकलें
यह थोड़ा अजीब जरूर है लेकिन कारगर उपाय है। बहुत ज्यादा छींक आ रही हो तो मुंह से अजीब आवाजें निकालना आपकी छींक को रोकने का एक प्रभावी तरीका है। ऐसा इसलिए है क्योंकि छींकने से मन के लिए व्याकुलता पैदा होती है और अजीब आवाजें निकाल कर आप उसे दूर करते हैं नतीजतन, यह बार-बार आने वाली छींक को कम करता है और यहां तककि कुछ मामलों में यह तरीका छींक को तुरंत रोक भी देता है।
भाप लेने से दूर होती है परेशानी
गर्म पानी का भाप लेना छींक का इलाज करने का एक और तरीका है। यह सर्दी और फ्लू के लिए भी एक प्रभावी उपाय है। NIH पर प्रकाशित एक अध्ययन से पता चलता है कि भाप लेने से बीमारी ठीक होने में लगने वाला समय लगभग एक सप्ताह कम हो सकता है। इसके लिए बस इतना करना है कि एक बड़े कटोरे में थोड़ा गर्म पानी लें और उससे निकलने वाली भाप के ऊपर झुक जाएं। अच्छी तरह से भाप लेने के लिए अपने सिर को तौलिये से ढक लें। गर्म भाप लेने से नासिका मार्ग साफ हो सकता है और बहती नाक का भी इलाज हो सकता है।
शहद से करें छींक का इलाज
शहद सर्दी और फ्लू से संबंधित छींक को रोकने में मदद कर सकता है। विभिन्न स्टडी में भी इसके फायदों के बारे में बताया गया है. शहद हमारे शरीर को पर्यावरण में मौजूद एलर्जी के अनुकूल बनाने में मदद कर सकता है। एक चम्मच शहद रोजाना खाने से सूजन कम हो सकती है और तुरंत राहत मिल सकती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

घर के सामने जमा होता है पानी, सौरभ ने मेयर को दी चिट्ठी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर की सड़क पर जलजमाव की समस्या कोई नयी नहीं है। फिलहाल मानसून का समय आने में देरी है, लेकिन सौरभ गांगुली आगे पढ़ें »

ब्लॉक-ब्लॉक में दुआरे सरकार परिसेवा कार्यक्रम, हावड़ा से शुरू करेंगी सीएम

हावड़ा : ब्लॉकों में दुआरे सरकार की परिसेवा फिर से शुरू होगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गुरुवार 9 फरवरी को हावड़ा जिले से इस सेवा का आगे पढ़ें »

ऊपर