राशि के हिसाब से मस्तक पर लगाएं तिलक, दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की के बनेंगे योग

कोलकाताः जब भी आप पूजा-पाठ के दौरान माथे पर तिलक लगाते होंगे तो आपको अंदर से एक सकारात्मक ऊर्जा का अहसास होता होगा। दरअसल धार्मिक दृष्टि से माथे के बीच का स्थान बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। मान्यता है कि इस जगह पर आज्ञाचक्र होता है, जिसे ऊर्जा का केंद्र माना जाता है। तिलक लगाने से ये चक्र उद्दीप्त होता है, जिसकी वजह से व्यक्ति का मन शांत और एकाग्र होता है। इसके अलावा मस्तक के बीच के स्थान को त्रिवेणी या संगम भी कहा जाता है क्योंकि यही स्थान शरीर की तीन नाड़ियों के मिलन का भी केंद्र होता है।

माथे पर तिलक लगाने से व्यक्ति में तेज की वृद्धि होती है और वो स्वयं को ऊर्जावान महसूस करता है। धार्मिक रूप से हम सब रोली, हल्दी, चंदन, भस्म, कुमकुम आदि का तिलक लगाते हैं, लेकिन ज्योतिष विशेषज्ञों का मानना है कि अगर तिलक अपनी राशि के अनुसार लगाया जाए तो ये कहीं ज्यादा प्रभावी होता है। इसे लगाने से राशि का स्वामी ग्रह प्रबल होता है और व्यक्ति को बहुत से लाभ मिलते हैंं। इससे व्यक्ति के शरीर में बहुत तेजी से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और वो पूर्ण एकाग्रता के साथ किसी भी काम को करता है। इससे उसकी दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की के योग का निर्माण होता है। यहां जानिए राशि के हिसाब से कौन सा तिलक लगाना चाहिए।

मेष : इस राशि वालों को हमेशा लाल कुमकुम या रोली का तिलक लगाना चाहिए क्योंकि मेष का स्वामी मंगल होता है। मंगल का रंग लाल माना गया है।

वृष : ये शुक्र के स्वामित्व वाली राशि है। ऐसे लोगों को मस्तक पर सफेद चंदन लगाना चाहिए। अगर सफेद चंदन न हो तो दही से मस्तक पर तिलक लगा सकते हैं।

मिथुन : मिथुन राशि वालों के लिए अष्टगंध का तिलक लगाना बहुत शुभ माना गया है। अष्टगंध आठ गंधद्रव्यों का संग्रह होता है। ये दो तरह का होता है शैव और वैष्णव। गृहस्थ लोगों को शैव अष्टगंध का प्रयोग करना चाहिए।

कर्क : इस राशि का स्वामी चंद्रमा है। चंद्रमा का रंग सफेद होता है। ऐसे लोगों को सफेद रंग का चंदन मस्तक पर लगाना चाहिए।

सिंह : सिंह राशि वालों का स्वामी सूर्य है। ऐसे लोगां को लाल रंग के कुमकुम या रोली का तिलक लगाना चाहिए।

कन्या : इस राशि का स्वामी भी बुध है। ऐसे लोगों को भी अष्टगंध का तिलक लगाने से काफी लाभ होता है।

तुला : शुक्र ग्रह तुला राशि का स्वामी होता है। इस राशि के जातक भी सफेद चंदन या दही का तिलक लगाएं।

वृश्चिक : मंगल ग्रह के स्वामित्व वाली इस राशि के जातकों को लाल रंग का तिलक मस्तक पर लगाना चाहिए।

धनु : धनु राशि के स्वामी गुरू बृहस्पति हैं। ऐसे लोगों को पीला चंदन या हल्दी को मस्तक पर लगाना चाहिए।

मकर : मकर राशि के स्वामी शनिदेव हैं। इन लोगों को काली भस्म या काला काजल मस्तक पर लगाना चाहिए।

कुंभ : इस राशि के लोगों को भी काली भस्म या काजल ही माथे पर लगाना चाहिए क्योंकि कुंभ राशि के स्वामी भी शनिदेव हैं।

मीन : ये राशि बृहस्पति के स्वामित्व वाली राशि है। ऐसे लोगों को पीला चंदन, केसर या हल्दी का तिलक लगाना चाहिए।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पताल में ट्रक पहुंचते ही ऑक्सीजन सिलेंडर लूट कर भागे उपद्रवी

दमोह : मध्य प्रदेश के दमोह जिले के अस्पताल से ऑक्सीजन सिलेंडर की लूट का मामला सामने आया है। जिला अस्पताल में हुई इस घटना आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : अनिश्चितकाल के लिए बंद हुआ बेलूरमठ

हावड़ा : कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए बेलूरमठ को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। बेलूरमठ की ओर से दी गई आगे पढ़ें »

ऊपर