जेएनयू हिंसा पर बॉलीवुड में गुस्सा, छात्रों के समर्थन में उतरे फिल्मी सितारे

films

मुंबई : दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के परिसर में रविवार देर रात छात्रों के साथ हुई मारपीट को लेकर अब बॉलीवुड के कलाकारों ने अपना गुस्सा जाहिर किया है। सोमवार रात मुंबई के कार्टर रोड पर कई मशहूर हस्‍तियों ने एकजुट होकर जेएनयू छात्रों पर हुए हमले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इनमें अनुराग कश्यप, अनुराग बसु, तापसी पन्नू, गौहर खान, विशाल भारद्वाज, रेखा भारद्वाज, रिचा चड्ढा, अली फजल, रीमा कागती, दीया मिर्जा और कई जाने-माने चेहते शामिल थे। इस प्रदर्शन की तस्वीरें और वीडियों सोशल मी‌डिया पर वायरल हो रहे हैं।

‘हमें मूर्ख समझने की भूल न करें’

प्रदर्शन के दौरान अनुराग कश्यप ने कहा कि हमें मूर्ख समझने की भूल न करें, देश में जो भी हो रहा है वह छिपा नहीं है। हम सब कुछ देख रहे हैं। वहीं, अभिनेता राहुल बोस ने आंख में चोट के बावजूद प्रदर्शन में हिस्‍सा लिया। वहां मौजूद दीया मिर्जा और तापसी पन्नु भावुक दिखाई दिए।

‘हमें सच्चाई का सामना करना चाह‌िए’

इसके अलावा भी कई फिल्मी सितारों ने सोशल मीडिया के जरिए जेएनयू में हुई हिंसा पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। मशहूर अभिनेत्री आलिया भट्ट ने इंस्टाग्राम की स्टोरी पर पोस्ट किया, ‘रोज कोई परेशान करने वाली घटना हो रही है। आखिर इस देश में क्या ‌हो रहा है? अगर छात्रों, अध्यापकों और साधारण लोगों पर आए दिन हमला किया जाएगा तो यहां सब कुछ सही नहीं हो सकता, और सब कुछ सही दिखाने की कोशिशें भी अब बंद कर देनी चाहिए। इस वक्त हमें सच्चाई का सामना करना चाह‌िए।’

सोनम में हमले को बताया कायरतापूर्ण

उधर, मशहूर अभिनेता अनिल कपूर ने भी जेएनयू में छात्रों के साथ हुई हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा- ‘इस तरह की घटना काफी हैरान और परेशान करने वाली है। मैं इतना ज्यादा परेशान था कि पूरी रात सो नहीं पाया। हिंसा से कभी कुछ प्राप्त नहीं हो सकता। इस घटना के दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’ उनकी बेटी और अभिनेत्री सोनम कपूर ने भी ट्वीट किया- ‘ यह घटना घृणित, कायरतापूर्ण और चौंकाने वाली है। निर्दोष छात्रों पर हमला करने से पहले कम से कम चेहरा तो दिखा देना चाहिए।’ इनके अलावा स्वरा भास्कर, निर्देशक अनुभव सिन्हा, अनुराग बसु, ट्विंकल खन्ना, हुमा कुरैशी जैसे कई सितारों ने ट्वीट करके अपना गुस्सा जाहिर किया है।

हमलावरों के चेहरे पर थे नकाब

मालूम हो कि जेएनयू के परिसर में रविवार रात करीब 40 से 50 नकाब पहने लोगों ने छात्रावासों में घुसकर छात्रों पर डंडों से हमला किया। हमले में शिक्षकों व छात्रों समेत 26 से अधिक लाेग घायल हो गए थे जिन्हें फिलहाल अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। देशभर में इस घटना की निंदा की जा रही है और लोग छात्रों के समर्थन में आवाज उठा रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

12 अगस्‍त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्‍सीन होगी पंजीकृत

वायरस टीके के लिए रूस की जल्दबाजी ने पश्चिम में चिंताएं बढायीं मॉस्को : दुनियाभर में जहां कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो आगे पढ़ें »

बीसीसीआई का दावा, यूएई में आईपीएल कराने को केंद्र सरकार की हरी झंडी

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराने की मंजूरी मिल गयी है आगे पढ़ें »

ऊपर