भारत में हैं कुछ ऐसे शिवलिंग जाे बदलते है अपने रंग

कोलकाता : भारत में भगवान शिव के कई ऐसे मंदिर हैं जो किसी न किसी चमत्कार के लिए जाने जाते हैं। भगवान शिव के इन्हीं चमत्कारों को देखने के लिए ही भक्त यहां आते हैं। आइए जानते हैं भारत के उन शिवलिंगों के बारे में जो दिन में कई दफा अपना रंग बदलते हैं।

राजस्थान का अचलेश्वर महादेव मंदिर : यह अचलेश्वर महादेव मंदिर राजस्थान के धौलपुर में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि इस मंदिर का शिवलिंग दिन में तीन बार अपना रंग बदलता है। जिसके तहत सुबह के समय शिवलिंग का रंग लाल, दोपहर के समय केसरिया जबकि शाम के समय के शिवलिंग श्यामा रंग हो जाता है। इस मंदिर के शिवलिंग का रंग बदलना आज भी एक पहेली बना हुआ है।

उत्तर प्रदेश का नर्मदेश्वर महादेव मंदिर : नर्मदेश्वर महादेव का यह मंदिर उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि इस मंदिर का शिवलिंग भी अपना रंग बदलता है। इस मंदिर की एक बड़ी खासियत यह भी है कि यह मंदिर भारत का अकेला ऐसा मंदिर है जिसमें मेंढक की पूजा की जाती है। इस मंदिर में भगवान शिव मेंढक की पीठ पर विराजमान हैं।

उत्तर प्रदेश का ही कालेश्वर महादेव मंदिर : यह कालेश्वर महादेव मंदिर यूपी के घाटमपुर तहसील में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि सूर्य की किरणों से इस मंदिर का शिवलिंग भी तीन बार अपना रंग बदलता है।

उत्तर प्रदेश का ही लिलौटी नाथ शिव मंदिर : यह लिलौटी नाथ शिव मंदिर उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि इस शिव मंदिर की स्थापना महाभारत काल में गुरु द्रोणाचार्य के पुत्र अश्वत्थामा ने किया था। यह शिवलिंग भी दिन में तीन बार अपना रंग बदलता है। जिसके तहत सुबह के समय शिवलिंग का रंग काला, दोपहर के समय भूरा और रात में शिवलिंग का रंग हल्का सफ़ेद हो जाता है। इस मंदिर के बारे में यह भी मान्यता है कि आज भी आधी रात के दौरान इस मंदिर में पूजा करने के लिए अश्वत्थामा और आल्हा-उदल आते हैं और जब वे आते हैं तो अचानक बिजली कड़कने लगती है और बिना मौसम के ही बारिश होने लगती है।
बिहार का दुल्हन शिवालय : बिहार का यह दुल्हन शिवालय नालंदा जिले में स्थित है। इस मंदिर के शिवलिंग का भी रंग सूर्य की रोशनी के हिसाब से घटता-बढ़ता रहता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

18+ हैं तो 28 अप्रैल से शुरू होगा कोरोना टीका रजिस्ट्रेशन, जान लें क्या डॉक्युमेंट्स हैं जरूरी

कोलकाता: देश में 18 साल से ऊपर सभी व्यक्तियों के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 28 अप्रैल से शुरू होगी। सरकार ने गुरुवार को इस बारे में आगे पढ़ें »

राज्यों में विवाद के बीच केन्द्र के निर्देश, ऑक्सीजन के मूवमेंट पर नहीं होगी कोई रोक

नई दिल्ली : देशभर के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी किल्लत से बदहाल कोविड-19 मरीजों के बीच दो राज्यों के टकराव के चलते केन्द्र सरकार आगे पढ़ें »

ऊपर