बदले-बदले से नजर आ रहे हैं अखिलेश यादव, चुनाव में हार के बाद भी फील्ड में एक्टिव

उत्तर प्रदेश :  सपा प्रमुख अखिलेश यादव 2017 में जब यूपी की सत्ता से बाहर हुए तो सड़क से कटते नजर आए थे। सियासी गठबंधन के विफल प्रयोगों के बीच जनता के मुद्दों पर सड़क पर उनकी मौजूदगी महज प्रतीकात्मक रही। ऐसे में विपक्ष के चेहरे के तौर पर अखिलेश पांच सालों तक सबसे बड़ा आरोप ‘निष्क्रियता’ का झेलते रहे।  वहीं, अब सत्ता में वापसी की टूटी उम्मीदों के बाद भी अखिलेश यादव बदले-बदले नजर आ रहे हैं और सपा की प्रासंगिकता बनाए रखने के लिए उत्तर प्रदेश में सक्रिय नजर आ रहे हैं। अखिलेश यादव 2022 के चुनाव में भले ही सूबे की सत्ता में सपा की वापसी न कर पाए हों, लेकिन पिछली बार से बेहतर प्रदर्शन जरूर किया है। ऐसे में अखिलेश ने लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा देकर विधायकी अपने पास रखकर संकेत पहले ही दे दिया था कि सूबे में सक्रिय रहकर सियासी जमीन को मजबूत करेंगे। साथ ही योगी सरकार के खिलाफ सीधे मुखातिब होंगे। इस तरह अखिलेश इन दिनों सूबे में सक्रिय होकर कार्यकर्ताओं के हौसले मजबूत और जनता में अपनी पैठ बनाने में जुट गए हैं।अखिलेश यादव पहली बार मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़कर विधायक बने, इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी पर भी उन्होंने किसी दूसरे नेता को बैठाने के बजाय खुद बैठना पसंद किया है। अखिलेश लगातार सक्रिय रहकर अपनी प्रासंगिकता को बनाए रखने में जुटे हैं, जिसमें पार्टी नेताओं के साथ मिलने जुलने से लेकर अलग-अलग जिलों में भी दौरे कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सीयू ने की ऑफलाइन परीक्षाएं कराने की सिफारिश

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि सीयू ने ऑफलाइन परीक्षाएं कराने की सिफारिश की है। मालूम हो कि आलिया विश्वविद्यालय आगे पढ़ें »

मंत्री पार्थ चटर्जी की बढ़ी मुश्किलें

तालाब में नर्समुदा कोलियरी का प्रदूषित पानीडाले जाने को लेकर लोग परेशान

कांस में रेड कार्पेट पर टॉपलेस होकर यूक्रेनी महिला जताया विरोध, “स्टॉप रेपिंग अस” के लगाए नारे

ब्रेकिंग : एनएसई को-लोकेशन मामला : सीबीआई ने कोलकाता सहित कई शहरों में तलाशी शुरू की

काजी नज़रुल यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों ने फिर से शुरू किया धरना

जेएनयू फिर शर्मसार, कैंपस में एमसीए की छात्रा से दुष्कर्म

राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर भावुक हुए राहुल गांधी, पिता को याद कर कही ऐसी बात

बिहार में आंधी-तूफान से 33 लोगों की मौत…

तरबूज के बीज खाने से होते हैं ये कमाल के फायदे

ऊपर