कृषि क्षेत्र को हरसंभव सहयोग की जरूरत : वेंकैया

मोतिहारी : देश के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कृषि क्षेत्र को हरसंभव सहायता प्रदान करने का आह्वान करते हुए कहा कि यह न केवल अर्थव्यवस्था की रीढ़ है बल्कि हमारी संस्कृति भी है। नायडू ने रविवार को पूर्वी चंपारण जिले के पिपराकोठी में राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय (आरपीसीएयू) के दूसरे दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा, कृषि देश की अर्थव्यवस्था का सबसे मजबूत स्तंभ है। कृषि न केवल अर्थव्यवस्था की रीढ़ बल्कि यह हमारी संस्कृति भी है। यह जानकर खुशी हुई कि आरपीसीएयू अनुसंधान और नवाचार को प्रोत्साहित कर रहा है। यह कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए अत्यधिक आवश्यक है। उपराष्ट्रपति ने छात्रों और अन्य कृषि विशेषज्ञों से बिहार और देश के अन्य हिस्सों में अधिक से अधिक पंचायतों तक पहुंचने का आह्वान किया और कहा कि उत्पादकता बढ़ाने के लिए किसानों को कृषि की नवीनतम तकनीकों के बारे में जागरूक किया जाना चाहिए। कृषि विश्वविद्यालय से उत्तीर्ण होने वाले छात्रों के स्टार्टअप को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे नए क्षेत्रों में पर्यटन को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए, जहां लोगों को कृषि में नवीनतम विकास के बारे में प्रत्यक्ष जानकारी मिलने के साथ ही वनस्पतियों, जीवों, प्राकृतिक सुंदरता की भी झलक मिल सके। सतत विकास के लिए सामाजिक और पारिस्थितिक घटकों को ध्यान में रखते हुए कृषि क्षेत्र की विशाल क्षमता का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान रिवर्स माइग्रेशन की प्रवृत्ति देखी गई, ऐसे में कृषि क्षेत्र लोगों को रोजगार प्रदान करने में सहायक हो सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सेक्स करने का सबसे सही समय कब होता है दिन या रात?

कोलकाताः सुबह का सेक्स बनाम शाम का सेक्स – यह एक सदियों पुराना संघर्ष है, आमतौर पर एक तरफ पुरुष और दूसरी तरफ महिलाएं। पुरुष आगे पढ़ें »

आजमगढ़ में सिंदूर दान से पहले मचला लड़के का मन, लड़की का शादी से …

विपक्षी एकता में पड़ी दरार! इस दल ने कांग्रेस से किया किनारा, सामने आई ये वजह

जज हत्याकांड: सीबीआई को षड्यंत्रकारी बारे में मिले अहम सुराग

त्रिपुरा में हार के बाद बोले अभिषेक ‘भाजपा ने प्रजातंत्र की हत्या की…

स्कूलों की समयावधि बढ़ाने के खिलाफ राजभवन पर धरना देंगे शिक्षक

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में नंबर-1 बना बिहार, लोक कला संस्कृति को मिला गोल्ड

मोटी कहकर चिढ़ाते थे, प्रेग्नेंट नहीं होने पर ताने, तंग आकर…

नीतीश का स्वास्थ्य विभाग को निर्देश, कहा- नए खतरे का सामना करने की पूरी तैयारी रखें

मां फ्लाईओवर पर नहीं थम रहा दुघर्टनाओं का सिलसिला, आज फिर…

ऊपर