अश्लील वेबसाइट तक पहुंच गई ननद-भाभी की लड़ाई

आगरा : घर में होने वाली ननद-भाभी की लड़ाई इस स्तर तक पहुंच जाएगी, ननद को इसका अंदाजा नहीं था। लड़ाई न सिर्फ घर की चहारदीवारी से बाहर निकली, बल्कि अश्लील वेबसाइट तक पहुंच गई। भाभी ने ननद से बदला लेने के लिए उसकी फाेटो और मोबाइल नंबर अश्लील वेबसाइट पर डाल दिया। ननद के फोटो और मोबाइल नंबर के आगे उसे एस्कार्ट के लिए उपलब्ध बता दिया। ननद के मोबाइल पर वीडियो काॅॅल और अश्लील मैसेज आने शुरू हुए तो उसके होश उड़ गए। फाेन करने वालों ने उसकी सर्विस लेने के लिए रेट पूछने शुरू कर दिए। ननद ने भाभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। मामला सदर क्षेत्र निवासी एक युवती का है। युवती के अनुसार उसके भाई की कुछ समय पहले मौत हो गई थी। उसकी मौत के बाद भाभी के व्यवहार में बदलाव आ गया। वह अपना ज्यादातर समय घर के बाहर बिताने लगी। इसे लेकर ननद और भाभी में विवाद शुरू हो गया। इससे आक्रोशित भाभी ने ननद से बदला लेने के लिए उसके कई फोटो और मोबाइल नंबर अश्लील वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। इसके एक दिन बाद ही छह मार्च से ननद के मोबाइल पर अश्लील मैसेज और वीडियो काल आने लगे। युवती से लोग एस्कार्ट करने की फीस पूछने लगे। इससे परेशान होकर ननद ने लोगों के फोन रिसीव करना बंद कर दिया। इस पर ननद के पास वायस काॅॅल आने शुरू हो गए। उधर, युवती यह नहीं समझ पा रही थी कि उसका नंबर अजनबी लोगों के पास कैसे पहुंच गया है। लोग उससे एस्कार्ट फीस के बारे में क्यों जानकारी कर रहे हैं। इस बीच युवती ने फोन करने वाले एक युवक से जानकारी की। युवक ने अपना नाम अजय बताते हुए उससे अन्य लड़कियों को भेजने की कहा। अजय ने बताया कि उसका फोटो और मोबाइल नंबर एस्कार्ट उपलब्ध कराने वाली अश्लील वेबसाइट पर पड़ा है। इसने ननद के होश उड़ा दिए। उसने इसकी जानकारी स्वजन को दी तो वह दहशत में आ गए। उन्होंने इसकी शिकायत सदर थाने में की। युवती ने अजय नामक युवक और अपनी भाभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कमिंस-रसेल के अर्धशतक बेकार, केकेआर की लगातार तीसरी हार

कोलकाता को 18 रन से हरा चेन्नई ने लगाई जीत की हैट्रिक मुंबई : आईपीएल 2021 के 15वें मैच चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने कोलकाता नाइट आगे पढ़ें »

कोरोना से मरीज त्रस्त, नर्सिंग होम्स बिल बनाने में व्यस्त

दक्षिण कोलकाता के नर्सिंग होम पैकेज पर ले रहे हैं कोरोना मरीजों को कोलकाता : कोरोना के कारण राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था ​अब धीरे-धीरे चरमरा रही आगे पढ़ें »

ऊपर