बेल व्यू क्लिनिक में वयस्क टीकाकरण क्लिनिक

कोलकाता : बेल व्यू क्लिनिक का उन्नत वयस्क टीकाकरण क्लिनिक शुरू किया गया। यह वयस्कों और वृद्ध आबादी को सेवाएं प्रदान करेगा, निमोनिया, हेपेटाइटिस ए और बी, मेनिन्जाइटिस, वैरिसेला, रेबीज, निष्क्रिय सहित प्रमुख बीमारियों के खिलाफ ढाल प्रदान करेगा। पोलियोवायरस (आईपीवी), खसरा, कंठमाला, रूबेला (एमएमआर), मानव पेपिलोमावायरस संक्रमण (एचपीवी), टेटनस, डिप्थीरिया, कैंसर और इन्फ्लूएंजा इनमें शामिल हैं। बेल व्यू क्लिनिक के आईटीयू प्रभारी और क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ तथा इंडियन सोसाइटी फॉर एडल्ट इम्यूनाइजेशन के संस्थापक अध्यक्ष डॉ सौरभ कोले ने कोलकाता में इसकी जानकारी दी। इसके तहत किशोरों को भी परिसेवा प्रदान की जायेगी। वयस्क टीकाकरण क्लिनिक, जिसमें वरिष्ठ चिकित्सक भाग लेंगे, सप्ताह में तीन दिन चलेगा।
इंडियन सोसाइटी फॉर एडल्ट इम्यूनाइजेशन का गठन डॉ कोले ने कहा कि 2013 में इंडियन सोसाइटी फॉर एडल्ट इम्यूनाइजेशन का गठन सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने और चिकित्सकों के बीच वयस्क टीकाकरण अभ्यास को आगे बढ़ाने के लिए किया गया था। वयस्क टीकाकरण पर पहली वर्चुअल वर्ल्ड कांग्रेस अप्रैल 2022 के अंतिम सप्ताह में आयोजित की गई थी। सोसायटी और बेल व्यू एडल्ट इम्यूनाइजेशन क्लिनिक ने व्यस्क टीकाकरण की सुविधाओं को उन्नत करने और लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए गंठजोड़ किया है।


यह लाभ मिलता है
वयस्क टीकाकरण दो उद्देश्यों को पूरा करता है, इनमें यह कुछ बीमारियों को होने से रोकता है और चिकित्सा खर्च को कम करता है, साथ ही साथ रोग भार को कम करता है और इसमें शामिल समग्र लागत को कम करता है। मानव पेपिलोमावायरस (एचपीवी) का जिक्र करते हुए, डॉ कोले ने कहा कि मानव पेपिलोमावायरस (एचपीवी) के विभिन्न प्रकार यौन संपर्क से फैलते हैं और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर के अधिकांश मामलों से जुड़े होते हैं। इस मौके पर डॉक्टर भास्कर पाल, डॉ. अनुराधा अग्रवाल, डॉ. रीना घोष, डॉ. देबदत्ता हल्दर, डॉ. सर्बरी दत्ता मौजूद थी।

Visited 305 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

आईएसपीएल को लेकर उत्साहित हैं बॉलीवुड सितारे, सैफ-अभिषेक ने …

मुंबई : इंडियन स्ट्रीट प्रीमियर लीग (आईएसपीएल) जल्द ही लोगों का मनोरंजन करने के लिए शुरू होने जा रहा है। दर्शकों को इस टेनिस बॉल आगे पढ़ें »

लोकसभा चुनाव से पहले लागू होगा CAA ?

नई दिल्ली: देश में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) जल्द लागू हो सकता है। सूत्रों के अनुसार, लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता जारी होने आगे पढ़ें »

ऊपर