आज उत्तराभाद्रपद नक्षत्र है, भगवान गणेश जी की पूजा का बन रहा है विशेष संयोग

कोलकाता : बुधवार का दिन पंचांग के अनुसार महत्वपूर्ण है इस दिन भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि है जो दोपहर 04 बजकर 21 मिनट तक रहेगी इसके बाद, चतुर्थी की तिथि आरंभ होगी। बुधवार को संकष्टी चतुर्थी का पर्व मनाया जाएगा।
आज की तिथि
पंचांग के अनुसार 25 अगस्त, बुधवार को तृतीया तिथि है। इसके उपरांत चतुर्थी की तिथि प्रारंभ होगी। तृतीया की तिथि को नए और शुभ कार्य को करने के लिए अच्छा माना गया है। अक्षय तृतीया का पर्व तृतीया की तिथि को मनाया जाता है।
चतुर्थी की तिथि– 25 अगस्त को दोपहर बाद से चतुर्थी तिथि आरंभ होगी। चतुर्थी की तिथि गणेश जी को समर्पित है। इस तिथि में संकष्टी चतुर्थी का पर्व मनाया जाएगा। इस दिन गणेश जी की विशेष पूजा की जाती है। बुधवार के दिन चतुर्थी की तिथि होने के कारण इस तिथि और व्रत का महत्व बढ़ जाता है।
आज का योग
पंचांग के अनुसार 25 अगस्त को शूल योग का निर्माण हो रहा है। ज्योतिष शास्त्र के अंर्तगत जब सात ग्रह, किन्हीं तीन भाव में स्थित हों तो शूल योग का निर्माण होता है। इस योग को शुभ नहीं माना गया है। इस योग में किए गए कार्यों की सफलता में संशय बना रहता है।
आज का नक्षत्र
25 अगस्त, बुधवार को पंचांग के अनुसार उत्तराभाद्रपद नक्षत्र रहेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार उत्तराभाद्रपद नक्षत्र को आकाश मंडल का 26वां नक्षत्र माना गया है। इस नक्षत्र के स्वामी शनि देव हैं जो वर्तमान समय में मकर राशि में वक्री होकर विराजमान हैं। इसके साथ ही इस नक्षत्र में गुरु का प्रभाव भी देखने को मिलता है। उत्तराभाद्रपद नक्षत्र में जन्म लेने वाले व्यक्ति बुद्धिमान और परिश्रम से सफलता प्राप्त करने वाले होते हैं। ऐसे लोगों परिश्रम करने से उच्च स्थान भी प्राप्त करते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

कोलकाता : पैसे-रुपये और तरक्की भला किसे पसंद नहीं होती, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी होते हैं जिनके हाथ में पैसे टिकते ही नहीं। पैसे आगे पढ़ें »

ऊपर