सावन के तीसरे सोमवार पर बन रहा है विशेष संयोग, शिवलिंग पर ये 5 अनाज चढ़ाने से प्रसन्न होंगे महादेव

कोलकाता : सावन का माह का तीसरा सोमवार 1 अगस्त 2022 यानी आज है। श्रावण मास 12 अगस्त को समाप्त होगा जिसके बाद भादो लग जाएगा। भोले बाबा की आराधना के लिए अब तीसरा और चौथा सोमवार बचा है। चौथा सावन सोमवार का व्रत 8 अगस्त को रखा जाएगा। महादेव की कृपा पाने के लिए इस दिन भक्त विधि विधान से भोलेनाथ की पूजा अर्चना करते हैं। शिवालयों में जलाभिषेक के लिए लंबी-लंबी कतारें लगती है। कहते हैं सावन सोमवार का व्रत रखने से मनोवांछित फल की प्राप्ती होती है। इस साल सावन के हर सोमवार पर विशेष योग बन रहे हैं। आइए जानते हैं तीसरे सोमवार पर क्या संयोग बन रहा है।
सावन के तीसरे सोमवार पर बनेगा शुभ संयोग :
सावन के तीसरा सोमवार पर विनायक चतुर्थी, शिव योग और रवि योग का अद्भुत संयोग बन रहा है जिससे इस दिन का महत्व दो गुना हो गया है। महादेव के साथ उनके पुत्र गणपति की उपासना से विशेष फल मिलेगा। विनायक चतुर्थी पर गणेश जी की आराधना करने से समस्त बाधाओं का नाश हो जाता है।
शिव योग – 1 अगस्त 2022 शाम 7 बजकर 3 मिनट से 2 अगस्त को शाम 6 बजकर 37 मिनट तक
रवि योग – 1 अगस्त 2022 सुबह 5 बजकर 42 मिनट से शाम 4 बजकर 6 मिनट तक
सावन सोमवार पर शिव को चढ़ाएं 5 अनाज
सावन के तीसरे सोमवार की पूजा में शिव जी मुठ्ठी जरूर चढ़ाएं। शिव मुठ्‌ठी में 5 प्रकार के अनाज शिवलिंग पर अर्पित किए जाते हैं। कहते हैं इससे मनचाहा फल मिलता है।
शिवा मुठ्‌ठी – काला तिल, मूंग, अक्षत, जौ-गेहूं, अरहर दाल
1- काला तिल
काला तिल शनि देव के साथ भगवान भोलेनाथ को भी अर्पित किया जाता है। मान्यता है कि सावन सोमवार पर शिवलिंग पर एक मुठ्ठी काला तिल चढ़ाने से गृहक्लेश समाप्त होते हैं। मानसिक तनाव से मुक्ति मिलती है।
2- मूंग
हरे मूंग की दाल गणशे जी के साथ शिव को भी प्रिय है। एक मुठ्‌ठी मूंग अर्पित करने से महादेव शीघ्र प्रसन्‍न होते हैं और मन इच्छा फल प्रदान करते हैं।
3- अक्षत
शिव पुराण में शिव पूजा में अक्षत के महत्व का वर्णन किया है। चावल शिव जी की प्रिय वस्तुओं में से एक है। अक्षत को पूर्णता का प्रतीक माना जाता है। सावन सोमवार की पूजा में शिवलिंग पर एक मुठ्ठी चावल अर्पित करने से धन-धान्य की कभी कमी नहीं होती। ध्यान रहे चावल खंडित न हो।
4- गेहूं
संतान सुख की प्राप्ति, विवाह की अड़चने दूर करने के लिए शिवलिंग पर एक मुठ्‌ठी गेहूं अर्पण करें।
5- अरहर दाल
सावन के तीसरे सोमवार पर शिव जी को अरहर की दाल अर्पित करें। ऐसा करने से धन से जुड़ी समस्याओं का निवारण हो जाता है। साथ ही समृद्धि में बढ़ोत्तरी होती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रविवार के दिन करें सूर्यदेव की पूजा, पढ़ें ये मंत्र, सफलता कदम चूमेगी

कोलकाता : आप नौकरी करते हैं या कोई व्‍यवसाय, किसी में आपको सफलता नहीं मिल रही है, चाहे उसके लिए आप कितनी भी मेहनत कर आगे पढ़ें »

ऊपर