पूरे सप्ताह के साप्ताहिक राशिफल पर एक नजर

दिनांक 16 से 22 मई 2021 तक
डॉ. मंगल त्रिपाठी
ग्रह संचरण- सूर्य, शुक्र, बुध और राहु वृष में, मंगल मिथुन में, केतु वृश्चिक में, शनि और प्लूटो मकर में, गुरु कुम्भ में, हर्शल मेष में एवं चंद्रमा 17/05 को घं. 6/53 से कर्क में, 19/05 को घं. 15/48 से सिंह में, 21/05 को घं.21/07 से कन्या में संचरण करेंगे।
व्रत त्योहार- 17/05 को आद्य शंकराचार्य जयन्ती, 18/05 को श्री रामानुजाचार्य जयन्ती, 19/05 को गंगा सप्तमी, 20/05 को दुर्गाष्टमी, श्री बगुलामुखी जयन्ती, 21/05 को जानकी जयन्ती, सीता नवमी, 22/05 को मोहिनी एकादशी व्रत स्मार्तो का।
मेष- भाई- बंधुओं के सहयोग से कर्मक्षेत्र में अच्छी प्रगति हो सकती है। आर्थिक क्षेत्र में भी उत्साहजनक परिणाम मिल सकते हैं। बकाया भुगतान मिलने से संचय में सुविधा होगी। प्रयास जितना स्पष्ट होगा उतना ही लाभ का रास्ता भी साफ होगा। स्वास्थ्य पर दृष्टि बनाये रखना जरूरी होगा। दिनांक 16 को विश्राम, 17 को चिंता, 18 को दुविधा, 19 को सामान्य, 20 को लाभ, 21 को सुख, 22 को प्रगति। मेष लग्न के लिए सप्ताह आर्थिक सुविधा का होगा। शुभ दित 20 से 22 मई एवं शुभांक 2, 4, 8।
वृष- आर्थिक क्षेत्र में धीरे- धीरे असुविधाओं का अंत होना प्रारम्भ होगा। कामकाज में व्यस्तता भी बनी रहेगी और अच्छी संगति का लाभ मिलेगा। समय की अनुकूलता का सही उपयोग होना चाहिए। सामाजिक संबंधों में विशेष ध्यान देना उचित रहेगा। कोई सुखद समाचार मिल सकता है। दिनांक 16 को खानपान, 17 को लाभ, 18 को प्रगति, 19 को सुख, 20 को तनाव, 21 को परेशानी, 22 को समाधान। वृष लग्न के लिए सप्ताह सुखद रहेगा। शुभ दिन 17 से 19 मई एवं शुभांक 3, 7, 9।
मिथुन- खर्च की वृद्धि से आर्थिक स्थिति प्रभावित हो सकती है। समय से काम न बनना परेशानी का कारण हो सकता है, किन्तु कुछ उलझनें भी सुलझ सकती हैं। मौसम के प्रभाव से उत्पन्न होने वाले सर्दी- जुकाम की समस्या हो सकती है। कोई भी निर्णय सोच समझकर ही करना उचित होगा। दिनांक 16 को मनोरंजन, 17 को सुख, 18 को प्रगति, 19 को लाभ, 20 को सहयोगी, 21 को सामान्य, 22 को तनाव। मिथुन लग्न के लिए सप्ताह संभलकर निर्णय लेने का होगा। शुभ दिन 18 से 20 मई एवं शुभांक 1, 5, 8।
कर्क- अचानक लिया गया निर्णय आर्थिक क्षति पहुंचा सकता है, फिर भी स्वाभाविक लाभ से सामान्य बनी रहेगी। परिस्थितियों को देखते हुए शुभचिंतकों की राय लेना आवश्यक होगा। पारिवारिक गतिविधियां अनुकूल बनी रहेंगी। जहां तक हो सके आवेश में आकर कोई भी निर्णय न लें। दिनांक 16 को खर्च, 17 को सामान्य, 18 को प्रगति, 19 को सुख, 20 को लाभ, 21 को सुविधा, 22 को मनोरंजन। कर्क लग्न के लिए सप्ताह मध्यम फल देगा। शुभदिन 19 से 21 मई एवं शुभांक 3, 6, 9।
सिंह- कर्मक्षेत्र में उत्साहदायक परिस्थिति बन सकती है जिससे अच्छा लाभ भी हो सकता है। घर गृहस्थी में प्रसन्नतादायक अवसर आ सकता है। फिर भी कुछ न कुछ सावधानी की आवश्यकता पड़ सकती है। विरोधियों से संबंध सुधारना आसान होगा, इसलिए इस दिशा में प्रयत्न करना चाहिए। दिनांक 16 को खानपान, 17 को परेशानी, 18 को कष्ट, 19 को सामान्य, 20 को सुख, 21 को लाभ, 22 को प्रगति। सिंह लग्न के ​लिए सप्ताह कर्मव्यस्तता का हो सकता है। शुभ दिन 20 से 22 मई एवं शुभांक 1, 4, 7।
कन्या- कर्मक्षेत्र में अच्छी प्रगति की स्थिति बन सकती है और उससे अच्छा लाभ भी हो सकता है। समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। संतान पक्ष से भी प्रसन्नता प्राप्त होगी और आपके कदम बुद्धिमानीपूर्वक पड़ते रहेंगे। लोगों में आपकी अच्छी प्रतिष्ठा बनती रहेगी और सहयोगी भी अनुकूल रहेंगे। दिनांक 16 को विश्राम, 17 को लाभ, 18 को प्रगति, 19 को सामान्य, 20 को हैरानी, 21 को खर्च, 22 को समाधान। कन्या लग्न के लिए सप्ताह प्रगतिकारक रहेगा। शुभ दिन 17, 18 और 22 मई एवं शुभांक 5, 7, 9।
तुला- कर्मक्षेत्र में हो रहे परिवर्तनों को ध्यान में देखना और उसके अनुसार अपनी योजना बनाना आपके लिए हितकर हो सकता है। आपकी बुद्धि सही सही निर्णय लेने में सक्षम रहेगी, फिर भी कुछ न कुछ अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। घर गृहस्थी में स्थिति को संभालने में सक्षम रहेगी, फिर भी कुछ न कुछ अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। घर गृहस्थी में स्थिति को संभालने में भी आलस्य न करना उचित होगा। तुला लग्न के लिए सप्ताह मिलाजुला परिणाम देगा। शुभ दिन 17 से 19 मई एवं शुभांक 1, 4, 9।
वृश्चिक- प्रतिकूल परिस्थिति बनने से खिन्नता बढ़ सकती है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए मन को स्वस्थ रखना आवश्यक होगा। अच्छे विचार द्वारा ही हर प्रतिकूलता को अनुकूल बनाया जा सकता है। जल्दबाजी से दूर रहना ही अच्छा रहेगा। आर्थिक गतिविधि सामान्य ही रहने की संभावना है। दिनांक 16 को अवरोध, 17 को सामान्य, 18 को लाभ, 19 को सफलता, 20 को प्रगति, 21 को सुख, 22 को खानपान। वृश्चिक लग्न के लिए सप्ताह मध्यम फलदायी रहेगा। शुभ दिन 18 से 20 मई एवं शुभांक 1, 4, 6।
धनु- आर्थिक आय के रास्ते खुले रहेंगे, किन्तु अनुमान के बाहर खर्च के रास्ते भी बनते रहेंगे। यद्यपि विरोधी परिस्थितियां और विरोधी लोग आपके कामधंधे में रुकावटें डालने की चेष्टा कर सकते हैं फिर भी उन्हें शायद ही सफलता मिले। सामाजिक, पारिवारिक रिश्तों को अपनी दृष्टि में रखें। दिनांक 16 को मनोरंजन, 17 को परेशानी, 18 को रुकावट, 19 को समाधान, 20 को प्रगति, 21 को लाभ, 22 को सुख। धनु लग्न के लिए सप्ताह प्रयत्न करते रहने का होगा। शुभ दिन 20 से 22 मई एवं शुभांक 2, 4, 6।
मकर- आर्थिक क्षेत्र में उत्साह से लगे रहने पर अच्छी प्रगति हो सकती है और संचय भी बढ़ सकता है। प्रतिकूल स्थिति में भी अनुकूलता बनाये रखने से आपकी बौद्धिक प्रतिभा प्रशंसायोग्य हो सकती है। यदि कोई शारीरिक कष्ट हो तो उसमें सुधार करने की पूरी संभावना है। दिनांक 16 को खानपान, 17 को सुख, 18 को लाभ, 19 को परेशानी, 20 को कष्ट, 21 को समाधान, 22 को प्रगति। मकर लग्न के लिए सप्ताह प्रगतिकारक रहेगा। शुभ दिन 17, 18 और 22 मई एवं शुभांक 3, 7, 9।
कुम्भ- सामान्यत: चिंता से ग्रस्त रह सकते हैं जिससे आवेश बढ़ सकता है इसलिए कोई भी निर्णय लेने के पहले गंभीरता पूर्वक विचार आवश्यक होगा। आर्थिक परिस्थिति में सामान्य गति बनी रहेगी। खर्च को सीमित करना आवश्यक रहेगा। कर्मक्षेत्र में भी दुविधा की स्थिति बन सकती है। दिनांक 16 को मनोरंजन, 17 को प्रगति, 18 को लाभ, 19 को प्रसन्नता, 20 को समाधान, 21 को सामान्य, 22 को रुकावट। कुम्भ लग्न के लिए सप्ताह मिलाजुला परिणाम देगा। शुभ दिन 17 से 19 मई एवं शुभांक 4, 6, 8।
मीन- घर गृहस्थी को लेकर चिंता बढ़ सकती है फिर भी अपने उत्साह से स्थिति को काबू में रखने की क्षमता बनी रहेगी। आय और व्यय में संतुलन बनाये रखना अभी जारी रखना चाहिए। समय की गति को समझते रहना सुखी बना सकता है। मौसमी प्रभाव से बचते रहने की चेष्टा अनिवार्य होगी। दिनांक 16 को चिंता, 17 को सामान्य, 18 को समाधान, 19 को लाभ, 20 को प्रगति, 21 को सहयोग, 22 को खानपान। मीन लग्न के लिए सप्ताह मध्यम रहने की आशा है। शुभ दिन 19 से 21 मई एवं शुभांक 2, 6, 8।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल को नहीं होने देंगे केंद्र शासित केंद्र : ममता

कोलकाता : केंद्र सरकार द्वारा उत्तर बंगाल को केंद्र शासित केंद्र करने की योजना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जमाकर भड़की है। ममता ने साफ कहा आगे पढ़ें »

मुकुल को बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है तृणमूल

बनाए जा सकते है राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी की बढ़ाएंगे सक्रियता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में लौट कर आये मुकुल रॉय को पार्टी बड़ी आगे पढ़ें »

ऊपर