बिहार की स्मार्ट सिटी मिशन योजना के तहत 984.50 करोड़ रुपये आवंटित : सुरेश शर्मा

पटना : बिहार सरकार ने बुधवार को कहा कि ‘स्मार्ट सिटी मिशन योजना’ के तहत पटना, भागलपुर, मुजफ्फरपुर और बिहारशरीफ के कार्यों की समीक्षा की गयी है और अगले दो से तीन महीने में लोगों को काम दिखने लगेगा।
विधान परिषद में नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने भाजपा के कृष्ण कुमार सिंह के तारांकित सवाल के जवाब में कहा कि पटना स्मार्ट सिटी द्वारा कुल 16 परियोजनाओं का कार्य आवंटित किया गया है। स्मार्ट सिटी मिशन योजना के तहत अब तक कुल 984.50 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसके तहत पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड को 380 करोड़ रुपये, भागलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड को 382 करोड़ रुपये, मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड को 112.50 करोड़ रुपये और बिहारशरीफ के स्मार्ट सिटी लिमिटेड को 110 करोड़ रुपये आवंटित है। शर्मा ने कहा कि पटना स्मार्ट सिटी द्वारा कुल 16 परियोजनाओं का कार्य आवंटन किया गया है। भागलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा आईसीसीसी बिल्डिंग परियोजना का कार्य आवंटन किया गया है तथा अन्य के लिए निविदा प्रकाशित की गयी है। इसी तरह मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत अभी तक विभिन्न परियोजना के कार्यान्वयन के लिए कुल नौ परियोजनाओं की निविदा आमंत्रित की जा चुकी है। मंत्री ने कहा कि बिहार शरीफ स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत अभी तक विभिन्न परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए कुल 17 परियोजनाओं की निविदा आमंत्रित की गयी है। उन्होंने कहा कि अब तक दो परियोजनाओं का कार्य पूर्ण हो चुका है तथा पांच परियोजनाओं का कार्य प्रारंभ हो चुका है। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी मिशन की योजना अवधि पांच वर्षों की है तथा चयनित योजनाओं को योजना अवधि में पूरा किया जाना है। इसके लिए समीक्षा भी की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल को नहीं होने देंगे केंद्र शासित केंद्र : ममता

कोलकाता : केंद्र सरकार द्वारा उत्तर बंगाल को केंद्र शासित केंद्र करने की योजना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जमाकर भड़की है। ममता ने साफ कहा आगे पढ़ें »

मुकुल को बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है तृणमूल

बनाए जा सकते है राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी की बढ़ाएंगे सक्रियता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में लौट कर आये मुकुल रॉय को पार्टी बड़ी आगे पढ़ें »

ऊपर