80 करोड़ के फर्जीवाड़े में एक गिफ्तार

money

लोगों की शिकायत के बाद ईडी ने की कार्रवाई
नयी दिल्लीः झारखंड की एक कंपनी के निदेशक को फर्जीवाड़ा के लिए ‌गिरफ्तार किया गया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कथित ठगी के मामले में कार्रवाई की। ईडी ने सोमवार को कहा कि उसने राज्य में भूखंड दिलाने के नाम पर लोगों से पैसे ऐंठे।
ईडी ने एक बयान में कहा कि रांची की संजीवनी बिल्डकॉम प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक श्याम किशोर गुप्ता को धनशोधन (मनी लॉन्ड्रिंग) रोकथाम कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है। उसे भूखंड दिलाने के नाम पर लोगों के साथ कथित धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। ईडी ने कहा, ‘‘ आरोपी निदेशक ने प्लॉट खरीदने के नाम पर लोगों से उसकी कंपनी में निवेश करने के लिए कहा और बाद में उस धन के साथ हेरफेर किया।’’ ईडी ने कहा कि उसकी अब तक की जांच में बड़ी संख्या में लोगों के साथ कथित ठगी के मामले में गुप्ता के अलावा कंपनी के प्रबंध निदेशक जयंती दयाल नंदी और अन्य का नाम भी सामने आया है।

मामले की जांच शुरू
ईडी का दावा है कि कंपनी ने निवेशकों से करीब 80 करोड़ रुपये जुटाए लेकिन किसी को भी प्लॉट या फ्लैट का आवंटन नहीं किया गया। निवेशकों से जुटाए गए पैसे को कंपनी और निदेशकों के बैंक खातों में रखा गया। ईडी का आरोप है कि इस पैसे से गुप्ता एवं अन्य ने कई तरह की चल-अचल संपत्तियां बनायी। निदेशालय ने इस संबंध में सीबीआई की 2014 की एक प्राथमिकी और कंपनी एवं उसके कार्यकारियों के खिलाफ दाखिल आरोप पत्र के आधार पर इस मामले की जांच शुरू की।

शेयर करें

मुख्य समाचार

छह जुलाई से खुलेंगे सभी स्मारक : संस्कृति मंत्री

नयी दिल्ली : देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए लागू अनलॉक-2 में आज संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने कहा कि छह जुलाई आगे पढ़ें »

भारत अब पावर क्षेत्र में चीन को दिखायेगा ढेंगा

नयी दिल्ली : भारत-चीन सीमा के बीच लद्दाख में भारत के शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए भारत हर दिन चीन को एक आगे पढ़ें »

ऊपर