प्राकृतिक सौंदर्य की छटा बिखेरता खैवा जलप्रपात मूल सुविधाओं से महरूम

चतरा : जल-जंगल और पहाड़ की अनुपम कृति झारखंड में प्राकृतिक सौंदर्य की अनुपम छटा बिखेरता चतरा जिले का खैवा जलप्रपात आकर्षण का केंद्र और पर्यटन की अपार संभावनाओं से परिपूर्ण होने के बावजूद आज भी बुनियादी सुविधाओं से महरूम है।
नदी की कल-कल बहती धार और पत्थरों की अद्भुत खूबसूरती लोगों को अपनी ओर बरबस खींच लाती है लेकिन मूलभूत सुविधाएं नहीं होने के कारण आज भी यह मनोरम स्थल पर्यटकों से अनछुआ है। हलांकि नववर्ष एवं मकर संक्रांति के अवसर पर स्थानीय लोग यहां आकर पिकनिक मनाते हैं। चतरा जिला के सदर प्रखंड के कटिया पंचायत के खैवा गांव स्थित खैवा जलप्रपात को प्रकृति ने खूब सजाया और संवारा है। खैवा-बंदारु गांव से तकरीबन दो किलोमीटर पैदल चलने के बाद यहां की अनुपम छटा दिखती है। नदी की धार से पत्थरों ने बेहद ही खूबसूरत रूप ले लिया है। लेकिन इस मनोहारी स्थल तक पहुंचने का रास्ता सुगम नहीं है। प्रकृति की इस अनुपम मनोहारी दृश्य को देखने के लिये भले ही पर्यटकों के यहां आने की संख्या नगण्य हो लेकिन इसे देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि हजारों कारीगरों ने मिलकर इसे बनाया हो। प्रतापपुर के जिला परिषद सदस्य अरुण यादव का कहना है कि यदि इस स्थल पर आवागमन की सुविधा के साथ ही सुरक्षा के इंतजाम हों तो यह स्थल पर्यटकों के लिये आकर्षण का केंद्र बन सकता है। स्थानीय पर्यटकों को उम्मीद है कि राज्य में हेमंत सोरेन की सरकार बनने से खैवा-बंदारु का कायाकल्प हो सकेगा। इस मनोरम स्थल पर पत्थरों की खाई में एक मंदिर भी है। ऐसी मान्यता है कि यहां आने वालों की मनोकामना पूर्ण होती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वजन कम करने के लिए ये डायट ट्रेंड है चलन में

नई दिल्ली : वेटलॉस आजकल एक बड़ा चैलेंज बनता जा रहा है। वजन कम करने के लिए आजकल लोग कई उपाय करते हैं। काफी लोगों आगे पढ़ें »

rahul

भारत में निवेश करने से डरते हैं दुनिया के बड़े निवेशकः राहुल गांधी

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश की छवि को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। राजस्थान के जयपुर आगे पढ़ें »

ऊपर