63 वर्षीय विधवा ने 1 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी रिक्शेवाले को दान कर दी, लेकिन क्यों?

भुवनेश्वरः ओडिशा की 63 वर्षीय मिनाती पटनायक भले ही अरबपति न हों, लेकिन उनकी दरियादिली ने लोगों का दिल जीत लिया है! इस विधवा के पास कटक के सुताहाट इलाके में एक तीन मंजिला घर और कुछ आभूषण हैं, जो उन्होंने 50 वर्षीय रिक्शा चालक बुद्ध सामल को दान कर दे दिए। इस सबकी कीमत लगभग 1 करोड़ रुपये आंकी जा रही है। सोशल मीडिया पर महिला के फैसले की सरहाना और रिक्शा चालक की सादगी और ईमानदारी की तारीफ हो रही है।
इसलिए रिक्शा चालक को दी सारी संपत्ति
एक रिपोर्ट के अनुसार, 63 वर्षीय विधवा मिनाती पटनायक ने अपनी सारी संपत्ति (लगभग 1 करोड़ रुपये) एक रिक्शा चालक को दान कर दी। महिला ने कहा, मेरे पति और बेटी की मृत्यु के बाद से बुद्ध सामल और उनका परिवार ही मेरी देखभाल कर रहा है इसलिए मैं उन्हें अपनी सारी संपत्ति दे रही हूं। मिनती ने बताया, ‘बुद्ध सामल ने हमेशा मेरे परिवार की मदद की है। उन्होंने आगे कहा- भले ही वो 50 साल का है। लेकिन उसकी पत्नी मुझे मां कहती है और उसके बच्चे मुझे दादी मां कहते हैं। उसकी सादगी और ईमानदारी के आगे यह संपत्ति कुछ भी नहीं है। बुद्ध ने कहा कि वो शुरू में इस प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए अनिच्छुक थे। लेकिन मां (मिनाती) फैसला कर चुकी थीं। उसने जोर देकर कहा कि हम उसके साथ रहें। वो मेरे परिवार के सभी लोगों से प्यार करती हैं।
कैसे हुई बुद्ध से मुलाकात?
मिनाती ने बताया कि बुद्ध सामल मेरी बेटी को स्कूल छोड़ा करता था। ऐसे में जब भी हमें रिक्शा की जरूरत होती तो हम उसे ही फोन किया करता थे। समय के साथ मेरी निर्भरता बुद्ध और उसकी पत्नी पर बढ़ती गई। उसकी पत्नी मेरी घर के काम में मदद करती। साथ ही, मुश्किल परिस्थिति में उसने मुझे इमोशनली सपोर्ट भी किया है। जब मैंने संपत्ति सौंपने का निर्णय किया, तो मेरे भाई-बहनों में कुछ नाराजगी थी। लेकिन चूंकि मैंने फैसला कर लिया इसलिए उन्होंने विरोध नहीं किया।’
गौरतलब है कि पिछले साल जुलाई में मिनाती ने कैंसर से पीड़ित अपने 68 वर्षीय पति को खो दिया था, और फिर इस साल जनवरी में उन्होंने दिल का दौरा पड़ने से उनकी 30 वर्षीय बेटी की जान चली गई। मिनाती ने बताया कि वह हृदय रोगी हैं और हाई बल्ड प्रेशर से भी पीड़ित हैं। ऐसे में सामल के परिवार ने उन्हें संभाला और खूब देखभाल की। वैसे तो मिनाती की तीन बहनें और एक भाई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कंगना की कार पर भीड़ का हमला, किसानों ने कहा माफी मांगो

पंजाबः कंगना रनोट को शुक्रवार को रोपड़ टोल प्लाजा में भीड़ के गुस्से का सामना करना पड़ा। कंगना ने ही सोशल मीडिया पर इस बात आगे पढ़ें »

ऊपर