गर्लफ्रेंड नहीं मिली तो 5 साल की बच्ची को किया अगवा फिर किया रेप, हुई फांसी

झुंझुनूं : उसने पांच साल की बच्ची से रेप किया था। इस जघन्य अपराध के लिए कोर्ट ने उसे फांसी की सजा सुनाई है। फैसला भी सिर्फ 26 दिन में सुना दिया। पॉक्सो कोर्ट के जज ने बुधवार को सजा सुनाते हुए कहा कि सुनवाई के दौरान तुम्हारे अंदर एक बार भी पश्चाताप नहीं देखा, अगर तुम पश्चाताप करते तो हो सकता था तुम्हारी सजा दूसरी होती। यह घटना राजस्थान के झुंझनूं जिले की है।

यह घटना 19 फरवरी को राजस्थान के पिलानी थाने के तहत श्योराणों की ढाणी की है। शाम करीब साढ़े पांच बजे पांच साल की मासूम खेत में अपने भाई-बहनों के साथ खेल रही थी। इसी दौरान एक स्कूटी पर आरोपी सुनील कुमार (20) आया और मासूम का अपहरण कर ले गया था। मालूम हो कि 20 साल का युवक अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने पास के कस्बे चिड़ावा गया था। वह नहीं मिली। गुस्से में वापस लौट रहा था। रास्ते में घर के पास भाई-बहनों के साथ खेल रही बच्ची पर उसकी नजर पड़ी। वह वहां ठहरा और गंदी नजरों से उसे देखता रहा। मौका पाते ही बच्ची को टॉफी का लालच देकर अपनी स्कूटी पर बैठा लिया। और वहां से तेजी से भाग गया। 40 किमी दूर जाकर अपने खेत पर रुका। वहां सुनसान जगह पर बच्ची के साथ दरिंदगी की। फिर बच्ची को चॉकलेट दिलाई और उसके गांव के पास ले जाकर छोड़ दिया। खून से लथपथ मासूम रो रही थी। इस दरिंदगी के बाद युवक की बेफिक्री का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसने गांव में अपने दोस्तों से मजाकिया लहजे में पूरी घटना बताई।

लहूलुहान मिली थी मासूम
19 फरवरी को अपहरण के तुरंत बाद ही मासूम के भाई-बहनों ने आरोपी का पीछा भी किया था, लेकिन वे उसे नहीं पकड़ पाए। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। SP मनीष त्रिपाठी के निर्देश पर पुलिस ने तुरंत नाकाबंदी की। इस बीच रात करीब 8 बजे मासूम गाड़ाखेड़ा गांव में लहूलुहान स्थिति में मिली थी। इसके बाद गाड़ाखेड़ा चौकी प्रभारी शेरसिंह तुरंत मौके पर पहुंचे और मासूम को अस्पताल पहुंचाया। हालत गंभीर होने पर उसे जयपुर रैफर किया गया था।

घटना के पांच घंटे बाद ही पुलिस ने शाहपुर निवासी आरोपी सुनील को गिरफ्तार कर लिया था। SP मनीष त्रिपाठी ने इस मामले में टीम का गठन का जल्द से जल्द चालान पेश करने को कहा। इसके बाद जांच अधिकारी चिड़ावा DSP सुरेश शर्मा ने आरोपी के खिलाफ 9वें दिन ही 1 मार्च को चालान पेश कर दिया था। तब से मामले की नियमित सुनवाई हो रही थी। बुधवार को पॉक्सो कोर्ट के जज सुकेश कुमार जैन ने आरोपी सुनील को फांसी की सजा सुनाई।

SP ने कहासमाज के ऐसे कांटों को कड़ा संदेश जाएगा
फैसला आने के बाद झुंझुनूं SP मनीष त्रिपाठी ने कहा कि इस फैसले से इस तरह के समाज के कांटों को कड़ा संदेश जाएगा कि बुराई का अंत बुरा ही होता है। उन्होंने मामले में जांच अधिकारी चिड़ावा डीएसपी सुरेश शर्मा और पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस टीम ने महज 9 दिन में चालान पेश कर नया रिकॉर्ड बनाया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एक ओवर में 3 विकेट झटक शाहबाज ने पलटा पासा, 6 रन से जीता बेंगलोर

चेन्नई : आईपीएल 2021 के छठे मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने सनराइजर्स हैदराबाद को करीबी मुकाबले में 6 रन से हरा दिया। टॉस आगे पढ़ें »

भारतीय हॉकी टीम ने अर्जेंटीना को 4-2 से हराया

ब्यूनस आयर्स : भारतीय हॉकी टीम ने आखिरी अभ्यास मैच में बुधवार को अर्जेंटीना को 4-2 से हराया। भारत के लिये रूपिंदर पाल सिंह, जसकरण आगे पढ़ें »

ऊपर