स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाता है आशावादी होना

विशेषज्ञों का मानना है कि आशावादी व्यक्ति का स्वास्थ्य निराशावादी व्यक्ति की तुलना में अच्छा होता है। यही नहीं, अगर आशावादी व्यक्ति बीमार भी पड़ते हैं तो निराशावादियों की तुलना में जल्दी स्वस्थ हो जाते हैं। सकारात्मक भावनाएं जैसे खुशी, उत्साह आदि व्यक्ति के मन पर अच्छा प्रभाव डालती हैं और आशावादी व्यक्ति तनाव रहित रहता है। आज के आधुनिक जीवन के कई रोगों की जड़ तो यह तनाव ही है। आशावादी व्यक्ति तनाव का अनुभव कम करते हैं इसलिए उन्हें तनाव से संबंधित परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है इसलिए इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी ज्यादा अच्छी रहती है। जीवन की कठिन परिस्थितियों से निराशावादी व्यक्ति घबरा जाता है और उनका सामना नहीं करता जबकि आशावादी व्यक्ति गंभीर से गंभीर परिस्थितियों में भी अपनी लगन व हिम्मत जुटाये रखता है और हर बीमारी का सामना भी हिम्मत से करता है और अपनी बीमारी पर विजय पा लेता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मिशन बंगाल : तृणमूल-भाजपा दोनों के लिए बड़ा दांव हैं नेताजी सुभाषचंद्र बोस

महापुरुषों की विरासत पर बिछी है बंगाल की चुनावी सियासत नेताजी की 125वीं जयंती पर आमने-सामने आयीं दोनों मजबूत पार्टियां कोलकाता : बंगाल में चुनावी सियासत की आगे पढ़ें »

पहले सीएम ने लगायी फटकार, फिर किया दुलार

पुरुलिया : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जिले के हुटमुड़ा मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। उनके संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का आगे पढ़ें »

ऊपर