सुशांत मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की सीबीआई जांच की सिफारिश

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश की है। सुशांत के पिता केके सिंह ने सीएम नीतीश कुमार सीबीआई जांच की मांग की थी। नीतीश कुमार ने सोमवार की रात सुशांत के चचेरे भाई और भाजपा विधायक नीरज बबलू से फोन पर तकरीबन 10 मिनट तक बात की। इस बतचीत में नीतीश कुमार ने सुशांत मामले पर नीरज बबलू से पूरा अपडेट लिया था। सूत्रों के अनुसार, जब तक सीबीआई जांच के लिए मंजूरी नही मिलती तब बिहार से गई एसआईटी मुंबई में ही रहेगी। मालूम हो कि सुशांत की मौत के बाद पिता ने पटना में मुकदमा दर्ज कराया था, जिसके बाद बिहार पुलिस की एसआईटी मुंबई गई थी। सरकारी सूत्रों की माने तो बिहार सरकार ने डीजीपी से सुशांत मामले में सीबीआई जांच की औपचारिकता पूरी करने के लिए कहा है।
परिवार सीबीआई जांच की सिफारिश के लिए तैयार
सुशांत के भाई नीरज बबलू ने मुख्यमंत्री से इस मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग भी की थी। साथ ही उन्‍होंने मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर भी कई गंभीर आरोप लगाए। वहीं सुशांत का परिवार सीबीआई जांच की सिफारिश के लिए तैयार था। हालांकि पहले सुशांत का परिवार सीबीआई जांच की मांग नहीं चाहता था, लेकिन पटना के सिटी एसपी को मुंबई में जबरन क्‍वारंटीन करने के बाद दिवंगत परिवार ने सीबीआई जांच को लेकर बिहार सरकार से सिफारिश का आग्रह करने के लिए तैयार हो गया।
चिराग पासवान ने भी नीतीश से सीबीआई जांच की मांग की
सूत्रों के अनुसार, नीतीश सरकार सीबीआई जांच की सिफारिश के लिए मन बना चुकी थी और लोगों की लगातार मांग थी कि इस पूरे मामले की सीबीआई जांच हो। इसी केस में मंगलवार को चिराग पासवान ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात की और सीबीआई जांच की मांग को दोहराया। बिहार सरकार की एक जांच टीम अभी मुंबई में है, जिसे आईपीएस अधिकारी लीड कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 7 विकेट से हराया

केकआर को मिली सीजन की पहली जीत,  गिल चमके अबुधाबी :सनराइजर्स के खिलाफ शानदार बोलिंग के बाद शुभमन गिल की बेहतरीन बल्लेबाजी की बदौलत कोलकाता नाइट आगे पढ़ें »

अकाली दल का दूसरा ‘बम’, भाजपा से 22 साल पुराना नाता तोड़ा

चंडीगढ : भारतीय जनता पार्टी के सबसे पुराने साथी शिरोमणि अकाली दल ने भाजपा का साथ छोड़ने की घोषणा कर दी है। उसने राष्ट्रीय जनतांत्रिक आगे पढ़ें »

ऊपर