सावधान! कहीं आप भी तो अपने गहने नहीं रखते बैंक के लॉकर में?

लखनऊ : क्या आप भी अपने गहने सुरक्षा के मद्देनजर बैंक के लॉकर में रखते हैं? अगर हां, तो आपको यह खबर जरूर पढ़नी चाहिए और विचार करना चाहिए। दरअसल, यूपी के लखनऊ में बैंक ऑफ बड़ौदा के लॉकर से ग्राहक के एक करोड़ के सोने के जेवर और कॉइन गायब होने पर हड़कंप मच गया है। इसके बाद बैंक से समाधान ना मिलने पर ग्राहक ने लॉकर की देखरेख करने वाले कर्मचारी सहित बैंक ऑफ बड़ौदा के स्टाफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया है।

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के चौक थाना क्षेत्र में अमित प्रकाश बहादुर का खाता बैंक ऑफ बड़ौदा ब्रांच के कोनेश्वर चौराहे स्थित बैंक में है। यह खाता उनके माता-पिता के साथ ज्वाइंट अकाउंट में है। अमित प्रकाश ने एक लॉकर उस बैंक में ले रखा था। उनका कहना है कि बैंक लॉकर में लगभग 200 तोले के अपने माता-पिता के और पुश्तैनी जेवर रखे हुए थे।

1 करोड़ से अधिक जेवहरात गायब

बताया जा रहा है कि, उन जेवर और कॉइन की कीमत लगभग 1 करोड़ 5 लाख के आसपास है। ग्राहक समय-समय पर अपने माता-पिता को लेकर ऑपरेट करने बैंक जाते रहते हैं लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के दौरान वे बैंक जाकर लॉकर को चेक नहीं कर पाए थे। पीड़ित अमित बहादुर का कहना है कि हाल ही में 23 अक्टूबर को वह अपने माता पिता के साथ लॉकर ऑपरेट करने पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ बैंक की लॉकर ऑपरेटर स्वाति भी साथ गई।

हालांकि, एक चाबी ऑपरेटर और दूसरी ग्राहक के पास रहती है, जिसकी वजह से दोनों चाबियों को एक साथ लगाने पर लॉकर खुल जाता है। लेकिन जब बैंक कर्मचारी स्वाती ने लॉकर में चाबी लगाई तो वह फंस गई और लॉकर अंदर से खुद खुल गया। जब लॉकर चेक किया गया तो उससे सारा सामान गायब था। मामले की शिकायत बैंक के मैनेजर से की गई तो उन्होंने पीड़ित को जांच का आश्वासन दिया। अब तक बैंक की तरफ से सटीक जवाब न मिलने पर पीड़ित ग्राहक ने बैंक के कर्मचारियों और लॉकर ऑपरेटर के खिलाफ धारा 406 के तहत मुकदमा दर्ज करवाया है। और पुलिस पूरे मामले की छनबीन में जुट गई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विराट अच्छे कप्तान लेकिन रोहित उनसे बेहतर : गंभीर

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने टी-20 टीम कप्तानी पांच बार के आईपीएल विजेता रोहित शर्मा को सौंपने की आगे पढ़ें »

साढ़े चार महीनों में 22 कोविड-19 जांच करायी : गांगुली

मुंबई : बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने मंगलवार को खुलासा किया कि महामारी के बीच अपनी पेशेवर प्रतिबद्धताओं को पूरा करने आगे पढ़ें »

ऊपर