विधायक को जूता मारने वाले शरद त्रिपाठी ‘सर्वश्रेष्‍ठ सांसद’ का पुरस्‍कार जीत चुके हैं

संत कबीर नगर : संत कबीर नगर जिले में जिला योजना समिति की बैठक में स्‍थानीय सांसद व जिले के ही विधायक के बीच हुई मारपीट व गाली गलौज को लेकर भारतीय जनता पार्टी की खूब फजीहत हुई है। और वो भी तब जब जिले के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन सामने बैठे हो। मीडिया में वायरल हुए इस प्रसंग ने हमारे जनप्रतिनिधियों चरित्र पर सवाल खड़े कर दिये है। पर कम ही लोगों को ज्ञात होगा कि अपने ही विधायक राकेश सिंह बघेल पर जूता चलाने वाले तथा गाली-गलौज तथा अमर्यादित आचरण करने वाले भारतीय जनता पार्टी के इस सांसद शरद त्रिपाठी सर्वश्रेष्‍ठ सांसद का अवॉर्ड जीत चुके हैं। उल्‍लेखनीय है कि फेम इंडिया श्रेष्ठ सांसद पुरस्कार-2018 की उम्मीद श्रेणी में सम्मान पाने वाले 25 सांसदों में त्रिपाठी ने पहला स्थान हासिल किया था। हालांकि, माननीय सांसद महोदय ने बुधवार को जिला योजना समिति की बैठक में हुई इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। तो उधर, विधायक सिंह ने भी कहा कि वे प्रदेश नेतृत्व के सामने पूरी बात रखेंगे। 2014 में पहली बार सांसद बने त्रिपाठी को मार्च 2018 में दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित फेम इंडिया श्रेष्ठ सांसद पुरस्कार-2018 में उम्मीद श्रेणी में पहला स्थान मिला था। मारपीट की घटना के बाद विधायक राकेश सिंह के समर्थकों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए सांसद त्रिपाठी को पुलिस ने शाम पांच बजे से रात आठ बजे तक कलेक्ट्रेट के एक कमरे में सुरक्षित रखा। पुलिस ने उपद्रवियों को हटाने के बाद सांसद को सुरक्षित बाहर निकालकर गोरखपुर पहुंचाया। सांसद त्रिपाठी उत्तर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति त्रिपाठी के बेटे हैं। 2009 में पहली बार लोकसभा चुनाव लड़े थे, लेकिन हार गए थे। विधायक राकेश सिंह बघेल भी 2017 में ही पहली बार विधायक बने हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नामांकन जुलूस के दौरान भिड़े एबीवीपी और सपा के छात्र, जमकर चले ईंट-पत्‍थर

वाराणसी : इन दिनों देशभर के कई विश्वविद्यालयों में विवाद चल रहा। चाहे वह दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) हो या फिर वाराणसी आगे पढ़ें »

3 महीने सर्दियों में पीजिए आंवला, पूरे साल रहिए स्वस्थ

नई दिल्ली : सर्दियों के मौसम में लोग स्वस्थ रहते है और सबसे ज्यादा बीमारियां भी सर्दियों में ही परेशान करती है। चाहे नॉर्मल सर्दी-जुकाम आगे पढ़ें »

ऊपर