रोजगार के लिए खाड़ी देशों के रूख करने वालों की संख्या में 62 % की आई कमी

मुंबईः भारत से रोजगार के लिए खाड़ी देशों का रूख करने वालों में 62 फीसदी की कमी आई है। 2017 की तुलना में 30 नवंबर 2018 तक के 11 महीनों में खाड़ी जाने के लिए भारतीयों में 21 फीसदी की कमी रही और यह आंकड़ा 2.95 लाख रहा। पिछले 5 साल में सर्वाधिक 7.76 लाख लोग 2014 में खाड़ी देशों में गए और इसकी तुलना 2018 के आंकड़ों से करें तो 62 फीसदी की गिरावट आई है। ये आंकड़े ‘ई-माइग्रेट इमीग्रेशन क्लियरेंस डेटा’ से लिए गए हैं, जो ईसीआर पासपोर्ट रखने वाले कामगारों को मिलने वाले इमीग्रेशन क्लियरेंस को दर्ज करता है।
2018 में सर्वाधिक गिरावट रही। इसमें 1.03 लाख यानी 35% कामगार यूएई गए। इसके बाद 65 हजार लोग सऊदी अरब जबकि 52 हजार लोग कुवैत गए। 2017 में ही सऊदी अरब से भारतीय कामगारों के लिए सर्वाधिक प्रिय गंतव्य का तमगा छिन चुका था। सऊदी अरब की संशोधित निताकत (सऊदीकरण) योजना ने भारतीय सहित विदेशी कामगारों की राह में मुश्किलें पैदा की। नई योजना के तहत सऊदी अरब की कुछ कंपनियां ही विदेशी एंप्लॉयीज को अपने यहां नौकरी पर रखने के लिए नए ब्लॉक वीजा का आवेदन कर सकती हैं। वहीं, 2014 में करीब 3.30 लाख कामगार सऊदी अरब गए थे, लेकिन 5 साल में इनकी संख्या में 80 फीसदी की कमी आई है। खाड़ी क्षेत्र में कतर ही एकमात्र देश है जहां पिछले सालों की तुलना में अधिक भारतीय रोजगार के लिए गए हैं। 2017 के 25 हजार कामगारों की तुलना में 2018 में 31% वृद्धि के साथ 32,500 लोगों को क्लियरेंस मिला।

ऐसे कमी आई
मुंबई के एक लेबर रिक्रूटर ने कहा, ‘संभव है कि ऐसा इस वजह से हुआ हो क्योंकि यह देश 2022 में फुटबॉल वर्ल्ड कप की मेजबानी की तैयारी में जुटा है और इसलिए श्रमिकों की मांग बढ़ी है।’ हालांकि, बेईमान नियोक्ताओं द्वारा भारतीयों को पेमेंट नहीं देने की खबरें भी आई हैं। पिछले साल दिसंबर में विदेश मंत्रालय द्वारा लोक सभा में दाखिल जवाब में कहा गया कि खाड़ी जाने वालों की संख्या में गिरावट की कई वजहें हैं। इसमें कहा गया, ‘तेल की कीमतों में कमी की वजह से खाड़ी देश आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रहे हैं और पब्लिक एवं प्राइवेट सेक्टर में अधिकतर स्थानों पर अपने नागरिकों को नौकरी दे रहे हैं।’



मुख्य समाचार

लोकसभा चुनाव में अंकगणित पर केमेस्ट्री की..

भाजपा राजनीतिक हिंसा की सबसे बड़ी शिकार पार्टी। बंगाल, केरल, कश्मीर, त्रिपुरा में हमारे सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने शहादत दी है। बंगाल में आज भी नहीं आगे पढ़ें »

मोदी दूसरे कार्यकाल में पहली विदेश यात्रा..

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल करने के बाद नरेंद्र मोदी 30 मई को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके बाद आगे पढ़ें »

कमजोर आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए..

नई दिल्ली : देश की कमजोर आर्थिक स्थिति को दुरुस्त करने के लिए सार्वजनिक व्यय में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए आगामी बजट में आगे पढ़ें »

पहले ही दौर में बाहर हुई यह..

पेरिसः पूर्व नंबर एक टेनिस स्टार वीनस विलियम्स का ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन के पहले ही राउंड में हार के साथ सफर समाप्त हो गया आगे पढ़ें »

घने बादलों के कारण रडार विमानों को..

बठिंडा: एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने नरेंद्र मोदी के रडार वाले बयान पर उनका बचाव किया। उन्होंने कहा कि घने बादलों के कारण रडार विमान को आगे पढ़ें »

अस्पताल में सीनियर लगातार जाति को लेकर..

आरोपित डॉक्टरों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए नई दिल्ली : मुंबई के एक सरकारी अस्पताल की महिला डॉक्टर ने अपने उपर लगातार किए जा रहे आगे पढ़ें »

हमले के 12 दिन बाद कांग्रेस विधायक..

विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह सहित 16 को बनाया अभियुक्त रायबरेली : रायबरेली के सदर क्षेत्र में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह पर हुए हमले के आगे पढ़ें »

वर्ल्ड कप : पंत की विस्फोटक बल्लेबाजी..

नई दिल्लीः भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा कि विश्व कप में टीम ऋषभ पंत की विस्फोटक बल्लेबाजी को जरूर याद आगे पढ़ें »

‘भारत और इंग्लैंड में होगी खिताबी जंग’

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार फिनिशर युवराज सिंह ने आगामी विश्व कप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों के बारे में अपने आगे पढ़ें »

जापान अमेरिका से 105 एफ-35 फाइटर प्लेन..

तोक्योः जापान अमेरिका से एफ-35 फाइटर प्लेन खरीद सकता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को कहा कि जापान रडार से बच निकलने वाले आगे पढ़ें »

ऊपर