संसद सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक, तीन तलाक बिल पर समर्थन मांगेगी सरकार

नई दिल्ली: संसद का सत्र सोमवार से शुरू होने वाला है। इस सत्र के शुरुआत से पहले सरकार सवर्दलीय बैठक कर नेताओं से चर्चा कर रही है। बैठक में सरकार आगामी सत्र के अजेंडे को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं को अवगत कराने के साथ ही अहम मुद्दों पर उनका समर्थन भी मांगेगी। खासतौर पर तीन तलाक बिल जैसे अहम मद्दे पर भाजपा को राज्यसभा में गैर-कांग्रेसी विपक्षी दलों से समर्थन की उम्मीद है।
विपक्षी दलों से अपील
सरकार ने विपक्षी दलों से सदन की कार्यवाही को बिना किसी बाधा के चलाने की अपील की है। सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लेने के लिए प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद हैं।
5 जुलाई को पेश होगा बजट
17 जून से शुरू हो रहा संसद का बजट सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 20 जून को अभिभाषण देंगे। 4 जुलाई को आर्थिक सर्वे पेश किया जाएगा, जबकि 5 जुलाई को देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनीं निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी।
तीन तलाक बिल पेश कर सकती है सरकार
तीन तलाक बिल के अलावा इस सत्र में केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में आरक्षण बिल और आधार बिल में संशोधन जैसे अहम विधेयक आ सकते हैं। गौरतलब है कि तीन तलाक बिल को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर से अलग राय रखते हुए कहा है कि सरकार को सभी दलों की सहमति से इस पर आगे बढ़ना चाहिए। बता दें कि इससे पहले यह बिल लोकसभा में पास हुआ था, लेकिन राज्यसभा में लटक गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कांग्रेस प्रवक्‍ता राजीव त्‍यागी का न‍िधन

नयी दिल्‍ली : भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस के प्रवक्‍ता राजीव त्‍यागी का निधन हो गया है। बुधवार शाम एक टीवी डिबेट के दौरान उन्‍हें हर्ट अटैक आगे पढ़ें »

पीसीबी और बीसीसीआई में किसी भी तरह का मनमुटाव नहीं : अहसान मनी

नई दिल्ली : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन अहसान मनी का कहना है कि पीसीबी और बीसीसीआई के प्रशासकों के बीच रिश्ते अच्छे हैं। लेकिन आगे पढ़ें »

ऊपर