विशेष बसों से लोगों को भेजने से लॉकडाउन होगा पूरी तरह से असफल : नीतीश

पटना : कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव काे देश मे रोकने के लिए किये गये 21 दिन के लॉकडाउन को विशेष बस से राज्यों में फंसे हुए लोगों के लिए चलाने से लॉकडाउन पूरी तरह से असफल हो जाएगा। दूसरे राज्यों से अपने मूल प्रदेश लौट रहे मजदूरों और अन्य गरीब लोगों को बसों से भेजे जाने को एक गलत कदम बताते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि यह कदम लॉकडाउन को पूरी तरह असफल कर देगा।
इससे फैलेगी महामारी
मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा है कि विशेष बसों से लोगों को भेजना एक गलत कदम है। उन्होंने कहा कि इससे कोरोना वायरस महामारी और फैलेगी जिसकी रोकथाम और उससे निबटना सबके लिए मुश्किल होगा। उन्होंने कहा ‘जो जहां हैं उनके लिये रहने खाने की व्यवस्था वहीं की जा रही है। बसों से लोगों को उनके राज्य भेजने का फैसला लॉकडाउन को पूरी तरह असफल कर देगा।’
स्थानीय स्तर पर ही किया जाए सभी इंतजाम
नीतीश ने सुझाव दिया कि स्थानीय स्तर पर ही कैम्प लगाकर लोगों के रहने और खाने का इंतजाम किया जाए। गौरतलब है कि दिल्ली-एनसीआर से हजारों की संख्या में लोग अपने घर जाने के लिए पैदल निकल पड़े हैं। इसे देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने 200 बसों का इंतजाम किया है। ये बसें नोएडा-गाजियाबाद से हर दो घंटे में रवाना होंगी। इन बसों में ज्यादातर लोग पूर्वांचल और बिहार के हो सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

आम लोगों की थालियों से गायब हो रही हैं सब्जियां

सब्जियों की कीमतें उछाल पर, हो गयी है दोगुनी कीमत, सप्लाई स्वाभाविक होने में लग सकते हैं एक महीने मधु सिंह,कोलकाता : अम्फान के 15 दिन आगे पढ़ें »

ऊपर