खाशोगी ‘मुस्लिम ब्रदरहुड’ के सदस्‍य थे : सऊदी प्रिंस

नयी दिल्‍ली : सऊदी नागरिक और वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार जमाल खाशोगी के बारे में सऊदी प्रिंस मोहम्‍मद सलमान ने ह्‍वाइट हाउस को किये एक फोन में एक खतरनाक इस्‍लामवादी बताया था। अपने फोन काल में सऊदी प्रिंस ने खाशोगी को अतिवादी संगठन ‘मुस्लिम ब्रदरहुड’ का सदस्य बताया था। अमरीकी अखबारों के मुताबिक यह फोन खाशोगी के लापता होने के बाद, लेकिन सऊदी अरब की ओर से उनकी हत्या स्वीकार किए जाने के पहले की गई थी। वॉशिंगटन पोस्ट का दावा है कि सऊदी राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान ने ये फोन कॉल अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के दामाद जेयर्ड कुशनर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन को की थी। जमाल खाशोगी की तुर्की स्थित सऊदी दूतावास में गलाघोट कर हत्या कर दी गई थी। खाशोगी सऊदी अरब की सत्ता के कड़े आलोचक थे। खाशोगी का शव अब तक नहीं मिला है लेकिन तुर्की, अमरीका और सऊदी अरब तीनों अब ये मानते हैं कि 2 अक्टूबर को इस्तांबुल के वाणिज्य दूतावास के भीतर ही उनकी हत्या कर दी गई थी। सऊदी अरब ने घटना में शाही परिवार का हाथ होने के आरोपों से इनकार किया है और सभी तथ्य खोज निकालने की प्रतिबद्धता जाहिर की है। अखबार का दावा है कि ये फोन कॉल 9 अक्टूबर को की गई थी। मोहम्मद बिन सलमान ने व्हाइट हाउस से अमरीका-सऊदी रिश्तों को बचाए रखने का निवेदन भी किया था। खाशोगी के परिवार ने इस आरोप से इनकार किया है कि वो मुस्लिम ब्रदरहुड के सदस्य थे। उन्‍होंने कहा कि उन्हें खतरनाक बताना मूर्खतापूर्ण होगा।


शेयर करें

मुख्य समाचार

Adhir Ranjan Chowdhury

संसद में गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाने पर जवाब मागेंगे अधीर रंजन

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र में पार्टी गांधी परिवार समेत कई नेताओं की एसपीजी सुरक्षा आगे पढ़ें »

gogoi

आज सीजेआई रंजन गोगोई हो रहे हैं रिटायर, पत्नी के साथ भगवान वेंकटेश्वर के किए दर्शन

त्रिरुमला : शीर्ष न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई रविवार 17 नवंबर यानी आज सेवानिवृत हो रहे हैं। उन्होंने अपनी पत्नी रूपनाजलि गोगोई के साथ आगे पढ़ें »

ऊपर