लड़कियों के धैर्य की परीक्षा लेता था कपड़ों में हाथ डालकर

झारखंड : नर्सिंग की छात्राओं से छेड़छाड़ और यौन शोषण के मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी शख्स झारखंड के एक गैर-सरकारी एनजीओ में निदेशक के पद पर कार्यरत है। निदेशक पर आरोप लगाया गया है कि वह लंबे वक्त से एनजीओ की तरफ से राज्य में चलाए जा रहे नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ यौन शोषण कर रहा था। पीड़िताओं ने कहा कि इस नर्सिंग इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर जिनका नाम परवेज आलम है और उन्हें बबलू नाम से भी जाना जाता है अक्सर नर्सिंग की छात्राओं को अपने पास बुलाते हैं। छात्राओं ने कहा कि बबलू उन्हें बुलाकर उनको पकड़ते और उनके कपड़ों में हाथ डालते। पीड़ित छात्राओं ने कहा कि बबलू हमारे सब्र को टेस्ट लेने के लिए अक्सर ऐसा करते थे।
काफी वक्त से छात्राओं को बना रहा था शिकार
छात्राओं ने बताया कि हमने कई बार इसका विरोध किया लेकिन हमें धमकाया गया और चुप रहने को कहा गया। सूत्रों के मुताबिक पिछले लंबे वक्त से परवेज आलम छात्राओं को अपना शिकार बना रहा था। एनजीओ के निदेशक की इन करतूतों का भंडाफोण तब हुआ जब इंस्टीट्यूट की कुछ छात्राओं ने इसके बारे में एक सामाजिक कार्यकर्ता को बताया। छात्राओं की आपबीती सुनकर सामाजिक कार्यकर्ता ने इसके खिलाफ कार्रवाई करने का मन बनाया। उन्होंने पीड़िताओं को इससे छुटकारा दिलाने के लिए इस संबंध में राज्यपाल को भी एक लेटर लिखा।
BDO के अंडर मे शुरू हुई जांच
कुछ दिनों के बाद इस पूरे मामले की जांच एक बीडिओ के अंडर में शुरू की गई और एक महिला पुलिस टीम को निर्सिंग इंस्टीट्यूट भी भेजा गया। इस संबंध में नर्सिंग की कई छात्राओं से भी बात की गई और उन लोगों ने बबलू उर्फ परवेज आलम के इस कुकर्म का खुलासा किया। मामले की जांज में जुटी टीम ने इस पूरे प्रकरण की रिपोर्ट खूंटी एसपी आशुतोष शेखर को भेज दी है और इसके बाद एनजीओ के डायरेक्टर बबलू को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 72 घंटे में मार गिराए 12 आतंकी

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। पिछले 72 घंटे में सुरक्षाबलों ने 12 आतंकवादियों को मार गिराया गया है। आगे पढ़ें »

बोले केजरीवाल नहीं चाहते लॉकडाउन पर मजबूरी में कुछ पाबंदियों के दिए आदेश

नई दिल्ली : दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने शनिवार को सख्त पाबंदियों की घोषणा की थी। इसके बाद आज आगे पढ़ें »

ऊपर