जेटली बतायें माल्‍या को लंदन उन्‍होंने भगाया या मोदी का आदेश था : राहुल गांधी

Fallback Image

नयी दिल्ली : शराब कारोबारी व भगोड़े विजय माल्या के देश छोड़ने से पहले वित्तमंत्री अरुण जेटली से मुलाकात के दावे के बाद एक बार फिर सियासत गरमा गयी है। गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी खुद मीडिया के सामने आए और आरोप लगाया कि संसद में जेटली और माल्या की मुलाकात काफी अंतरंग थी, जिसे पीएल पुनिया ने देखा था। राहुल ने कहा कि जेटली ब्लॉग लिखते रहते हैं, लेकिन कभी विजय माल्या से मिलने के बारे में देश को नहीं बताया। राहुल ने जेटली से इस्तीफा मांगा है। राहुल ने संवाददाता सम्‍मेलन ने दौरान पूछा कि विजय माल्या ने अरुण जेटली से अनौपचारिक तरीके से अप्रोच किया था पर सवाल यह है कि उन्होंने अब तक इसे क्यों छिपाया? राहुल ने कहा कि हमारे पास सबूत हैं और वह हैं पीएल पुनिया, जिन्होंने संसद में माल्या और जेटली की मुलाकात देखी थी और यह मुलाकात छोटी नहीं थी।

संवाददाता सम्‍मेलन में पीएल पुनिया ने दावा किया, ‘बजट सत्र के बाद 1 मार्च 2016 को मैं संसद के सेंट्रल हॉल में बैठा था तभी मैंने देखा कि अरुण जेटली और विजय माल्या खड़े होकर कोने में अंतरंग बातें कर रहे थे।’ पुनिया ने दावा किया कि 5-7 मिनट के बाद सेंट्रल हॉल में बेंच पर भी दोनों बात करते दिखे थे। कांग्रेस नेता की ओर से यह भी कहा गया कि माल्या उस सत्र में पहली बार उसी दिन जेटली से मिलने ही आए थे। पुनिया ने कहा कि मेरी चुनौती है वहां पर सीसीटीवी कैमरा लगा है। सीसीटीवी फुटेज से पता लग जाएगा या तो वह राजनीति छोड़ दें, या तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘कई बार मैंने उस मुलाकात का जिक्र भी किया था। जेटली ढाई साल तक इस पर रहस्य बनाए रहे, संसद में कई बार डिबेट हुई पर उन्होंने कभी भी जिक्र नहीं किया कि वह माल्या से मिले थे।’ राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि इस मुलाकात से स्पष्ट है कि विजय माल्या देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली से अनुमति लेकर और सलाह लेकर देश से भाग गया है। राहुल गांधी ने कहा कि वित्तमंत्री ने इस बारे में न सीबीआई को बताया, न ईडी को और न पुलिस को। राहुल ने कहा कि जेटली को बताना चाहिए कि उन्होंने अपने से यह फैसला किया या ऊपर से ऐसा करने के लिए उन्हें आदेश मिला था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुनिया के उद्योगपति बंगाल में करें निवेश – ममता

बंगाल आपका स्वागत करता है : सीएम दीघा में शुरू हुआ दो दिवसीय बंगाल ​पिजनेस कांक्लेव सन्मार्ग संवाददाता दीघा : नये उद्योग में निवेश के लिए बंगाल की आगे पढ़ें »

momota

हम लोगों में विभाजन नहीं करते : ममता

सन्मार्ग संवाददाता दीघा : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि विविधता में एकता राज्य की परंपरा है। यहां लोगों को जाति, आगे पढ़ें »

भाजपा संविधान के ‘वी द पीपल’ को ‘वी द हिंदू’ में बदल रही है : तेजस्वी यादव

पश्चिम चंपारण में यौन शोषण के बाद जिंदा जलाई गयी युवती की मौत

बिहार कांग्रेस ने नागरिकता बिल के विरोध में निकाला मार्च

निर्माण श्रमिकों को शीघ्र उपलब्ध करायें चिकित्सा सहायता राशि : सुशील मोदी

assam

नागरिकता बिल : नॉर्थ-ईस्ट में छात्रों का प्रदर्शन हुआ उग्र, 5000 अर्द्धसैनिक बल तैनात

sindhiya

सिंधिया ने कहा-भारतीय संस्कृति और संविधान के खिलाफ है नागरिकता संशोधन विधेयक

britain

हिंदी गानों में हो रहा बिट्रेन चुनाव प्रचार,अनुच्छेद 370 और जलियांवाला हत्याकांड पर वोट की होड़

actor

रणवीर सिंह को मिला बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड, शाहिद ने दिखाई नाराजगी

ऊपर