राजस्थान में तीस फुट की सड़क पर बार लाइसेंस की अधिसूचना निरस्त करने के निर्देश

जयपुर : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में आबकारी विभाग को इंस्पेक्टर राज से मुक्त कर सिस्टम में पारदर्शिता एवं प्रभावी सुधार के लिए कार्य योजना बनाने तथा प्रदेश के शहरों में तीस फुट की गलियों में होटल एवं रेस्टोरेंट में बार लाइसेंस की अधिसूचना को तत्काल प्रभाव से निरस्त करने के निर्देश दिए हैं।
अशोक गहलोत ने शुक्रवार रात को मुख्यमंत्री निवास पर उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपनी मद्य संयम नीति का कड़ाई से पालन कराने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नागरिकों के बेहतर स्वास्थ्य और युवा पीढ़ी को मादक पदार्थों से दूर रखने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। इस दिशा में हमने आठ बजे शराब की दुकानों को बंद करने, ई-सिगरेट पर प्रतिबंध और हुक्काबार पर रोक जैसे सख्त निर्णय किए हैं और लोगों में इनका सकारात्मक प्रभाव देखने को मिला है। उन्होंने बैठक में सर्विस डिलिवरी सिस्टम को और बेहतर बनाने के निर्देश भी दिए। गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार संवेदनशील, पारदर्शी एवं जवाबदेह शासन के संकल्प के साथ कार्य कर रही है। ऐसे में आमजन से जुड़े विभागों की सेवाएं लोगों को समय पर मिलनी चाहिए। उन्होंने सामाजिक सुरक्षा पेंशन, चिकित्सा, महिला बाल विकास, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और शिक्षा तथा अन्य विभागों में सर्विस डिलिवरी सिस्टम को और अधिक मजबूत बनाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘पहला सुख निरोगी काया’ की अवधारणा के अनुरूप राज्य में ‘निरोगी राजस्थान अभियान’ शुरू किया गया है। इसका उद्देश्य आमजन को बेहतर जीवनशैली के माध्यम से रोगमुक्त एवं स्वस्थ रहने के लिए प्रेरित करना है। विभाग इस अभियान को जन आंदोलन के रूप में आगे बढ़ाए ताकि लोग स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हों और ऐसी जीवनशैली अपनाएं कि बीमारियों से बचा जा सके। गहलोत ने कहा कि प्रदेश को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में सिरमौर बनाने के लक्ष्य के साथ आगे बढ़ा जा रहा है, ऐसे में यह अभियान महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बाबूलाल मरांडी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता नहीं देने से नाराज भाजपा सदस्यों का झारखंड सदन में हंगामा

रांची : झारखंड विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता नहीं दिए जाने से नाराज भाजपा आगे पढ़ें »

बेगूसराय सीएसपी लूटकांड मामले में चार अपराधी गिरफ्तार

बेगूसराय : बिहार के बेगूसराय जिले में कुछ दिनों पूर्व ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक से करीब पांच लाख रुपये की लूट के मामले में आगे पढ़ें »

ऊपर