राजधानी में पेय जल की संकट, दैनिक जरूरत की वस्तुओं के लिए तरसे लोग

bihar-flood-situation

पटनाः राजधानी में जल प्रलय के बाद जल का संकट गहराया हुआ है। प्रशासन पेय जल मुहैया कराने की कोशिशों में लगा है। मगर, अभी तक लोगों को राहत मिल नहीं सकी है। राजेंद्र नगर, कंकड़बाग सहित कई इलाकों में साफ जल नहीं मिलने से लोग भटक रहे हैं। यहां बिजली कटे हुए दो दिन से अधिक हो गए, जिसके कारण पीने का पानी तक मिल मिल रहा है। वहीं, इन चीजों के माहेताज से परेशान किरायेदार घर छोड़कर अपने-अपने गांव की ओर निकल रहे हैं।
लोगों का कहना है कि वे किसी तरह से पहले के बचाए पानी से काम चलाया। मगर, अब पानी खत्म हो गया है। मुहल्ले के लोगों ने कहा कि बिजली विभाग सूचना देकर निश्चिंत हो गया है। विभाग की ओर से मोबाइल पर सूचना दी गई है कि पटना शहर में मूसलधार बारिश व जलजमाव को देखते हुए बिजली की आपूर्ति कुछ क्षेत्रों में बाधित की गई है, ताकि जानमाल की रक्षा हो सके।

कुछ इलाकों में बिजली बहाल
लोगों का कहना है कि कदमकुआं के कांग्रेस मैदान रोड के पश्चिम तरफ सोमवार की शाम से बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई, लेकिन पूरब के इलाकों में कब बिजली आएगी, कोई बताने को तैयार नहीं।

गैस सिलिंडर व अन्य दैनिक सामग्रियों के लिए तरसे लोग
खबर के अनुसार छोटे बच्चों को कहीं-कहीं दूध नहीं मिल रहा है। गैस सिलेंडर के लिए भी लोग यहां-वहां भटकते देखे गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना के रोकथाम के लिए अमेजन ने भारतीय डिलीवरी पार्टनर्स के लिए रिलीफ फंड जारी किया

नई दिल्ली : कोविड-19 महामारी भारत में फैलता जा रहा है, ऐसे में भारत में अमेजन और उसके साझेदार नेटवर्क समुदायों की मदद के लिए आगे पढ़ें »

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 547 नये मामले आए सामने, कुल 6412 हुए संक्रमित

नयी दिल्ली : देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण से लोगों के बचाव के लिए लागू 21 दिन के लॉकडाउन के बीच देश में पिछले 24 आगे पढ़ें »

ऊपर