योगी सरकार का बड़ा फैसला, रेपिस्ट और छेड़खानी करने वालों को मिलेगी ऐसी सजा

लखनऊ :  उत्तर प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं के साथ हो रहे अपराध पर और सख्त हो गई है। इस अपराध पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार ने नया फरमान जारी किया है, जिससे प्रदेश में महिलाओं के साथ अपराध करने वालों की शामत होगी। इतना ही नहीं ऐसे अपराधियों को योगी सरकार अब बेइज्जत करेगी। बच्चियों के साथ रेप करने वाले, छेड़खानी करने वाले और यौन अपराध करने वाले अपराधियों के चौहारों पर पोस्टर लगाए जाएंगे।
महिला पुलिस कर्मियों से दंडित होंगे अपराधी
सीएम योगी ने कहा कि कहीं भी महिलाओं के साथ कोई आपराधिक घटना हुई तो संबंधित बीट इंचार्ज, चौकी इंचार्ज, थाना प्रभारी और सीओ जिम्मेदार होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि महिलाओं से किसी भी तरह का अपराध करने वाले अपराधियों को महिला पुलिस कर्मियों से ही दंडित किया जाएगा।
मददगारों को भी मिलेगी सजा

योगी ने ऐसे अपराधियों और दुराचारियों के मददगारों के भी नाम उजागर करने का आदेश दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि महिलाओं और बच्चियों के साथ रेप, छेड़खानी, यौन उत्पीड़न या शोषण करने वाले अपराधियों और दुराचारियों के मददगारों के भी नाम उजागर किए जाएं। ऐसा करने से उनके मददगारों में भी बदनामी का डर पैदा होगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं और बच्चियों के साथ किसी भी तरह की घटना को अंजाम देने वालों को समाज जाने और उनका समाज बहिष्कार करे, इसलिए इन अपराधियों के पोस्टर को चौराहों पर लगाएं जाएं। सूत्रों के अनुसार, रेपिस्ट में वही अपराधी शामिल होंगे, जिन्हें अदालत ने दोषी करार दिया हो।

पुलिस की होगी जवाबदेही
योगी ने महिलाओं और बच्चियों के साथ हो रहे अपराधों को लेकर यूपी पुलिस को चेतावनी देते हुए कहा कि कहीं भी महिलाओं के साथ कोई आपराधिक घटना हुई तो संबंधित बीट इंचार्ज, चौकी इंचार्ज, थाना प्रभारी और सीओ जिम्मेदार होंगे। इसके लिए उनकी जवाबदेही तय होगी और उनके खिलाफ ऐक्शन भी लिया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राजस्थान ने पंजाब को 7 विकेट से हराया, राजस्थान अब भी प्ले ऑफ की रेस में

अबुधाबी : बेन स्टोक्स की अगुआई में शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के उम्दा प्रदर्शन की बदौलत राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग में शुक्रवार को आगे पढ़ें »

1000 छक्के उड़ाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने गेल

अबु धाबी : राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शतक से चूक गए अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के कारण दुनियाभर की टी20 लीग में अपना विशिष्ट स्थान रखने आगे पढ़ें »

ऊपर