मोदी सरकार रेलवे कर्मचारियों को देगी 78 दिनों का बोनस

railway bonus

नई दिल्ली : सरकार ने त्योहारी सीजन से पहले रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन के वेतन के बराबर उत्पादकता आधारित बोनस देने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमडल की आज यहां बैठक हुई, जिसमें यह निर्णय लिया गया। सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मंत्रिमंडल ने रेल कर्मचारियों के लिए उत्पादकता आधारित बोनस को मंजूरी प्रदान कर दी है। इसके तहत सभी पात्र अराजपत्रित रेल कर्मचारियों को वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 78 दिनों के वेतन के बराबर उत्पादकता आधारित बोनस (पीएलबी) मिलेगा। सरकार के इस निर्णय से लगभग 11 लाख रेल कर्मचारियों को लाभ मिलेगा।

लगातार 6 साल तक बोनस देने वाली पहली सरकार : जावड़ेकर

कैबिनेट मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रेलवे के कर्मचारियों को बोनस देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि पहली बार ऐसा होने जा रहा है कि कोई सरकार लगातार 6 साल तक रेलवे के कर्मचारियों को बोनस दे रही है। बता दें कि इस पर सरकार 2024 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है।

इन कर्मचारियों को मिलेगा ये बोनस

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि यह बोनस रेलवे के कर्मचारियों की मेहनत का उपहार है। रेलवे में 11 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं। यह बोनस गैर गैजेटेड कर्मचारियों को मिलेगा। उन्होंने बताया कि यह एक प्रकार का उत्पादकता लिंक की गई बोनस है। मालूम हो कि पिछले साल प्रति कर्मचारी बोनस की अधिकतम रकम 17951 रुपए थी। हर साल रेलवे के कर्मचारियों को दशहरा की पूजा की छुट्टी के पहले ये बोनस दिया जाता है। यह भी मालूम हो कि रेलवे में उत्पादकता लिंक की गई बोनस को 1979 में लाया गया था। इससे पहले 72 दिन के वेतन के बराबर बोनस दिया जाता था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

करीमपुर उपचुनाव से होगा बंगाल विधानसभा के विजय का आगाज : विजयवर्गीय

नदियाः नदिया के करीमपुर विधानसभा उपचुनाव से बंगाल विधानसभा पर विजय का आगाज होगा, शनिवार शाम करीमपुर के महिषबथान में गांधी संकल्प यात्रा को केंद्र आगे पढ़ें »

बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक : शुभेन्दु अधिकारी

मुर्शिदाबाद : मुर्शिदाबाद के जलंगी में बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक। परिवहन मंत्री और तृणमूल के जिला पर्यवेक्षक शुभेन्दु आगे पढ़ें »

ऊपर