मेट्रो का दूसरा दिन : 7100 यात्री अधिक आये, टार्गेट 1 लाख का

कोलकाता : मेट्रो रेलवे की परिसेवा के शुरू होने के दूसरे दिन की तस्वीर पहले दिन से थोड़ी और अलग नजर आयी। मंगलवार को शाम 5 बजे तक 18592 यात्रियों ने सफर किया जबकि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो में शाम 6 बजे तक 99 लाेगों ने यात्रा की। रात 8 बजे तक 27100 लोगों ने सफर किया। जोकि सोमवार की तुलना में 7100 अधिक यात्री थे। खासकर ऑफिस टाइम यानी की सुबह 9 से 11.30 बजे तक मेट्रो के विभिन्न स्टेशनों पर लोग नजर आये। ऑफिस टाइम पर मेट्रो की ई-पास की स्लाटिंग फुल हो गयी थी। ट्रेनों में भीड़ कम होन से यात्री खुश नजर आये क्योंकि ऑफिस टाइम होने के बावजूद लोगों को ठूंस-ठूंस कर नहीं बैठना पड़ रहा है। इसे देखते हुए मेट्रो ने क्षमता को बढ़ाकर 45 हजार से 1 लाख कर दिया है। इस बारे में मेट्रो के जीएम मनोज जोशी ने सन्मार्ग से कहा कि मेट्रो के दूसरे दिन का रिस्पांस काफी अच्छा रहा है। सुबह ऑफिस के टाइम पर लोगों ने ई-पास की बुकिंग करायी जो कि फुल  हो गयी। इसे देखते हुए मेट्रो ने क्षमता को बढ़ाकर 1 लाख कर दिया है। इतने लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठाना संभव हो पायेगा।
ई-पास की स्लाटिंग जब हुई फुल
मेट्रो रेलवे, कोलकाता कटेक्निकल हेड संजय कुमार चट्टोपाध्याय ने बताया कि एक ट्रेन में 400 तक की क्षमता है। मगर ऑफिस टाइम पर एक बार में 1000 लोगों तक केआवेदन आ रहे थे। 9 से 11.30 बजे तक 12 हजार लोगों ने ई-पास बुकिंग किया। शाम 4 बजे तक 16 हजार लोगों ने बुकिंग करायी है। रात 8 बजे तक 25 हजार लोगों ने ई-पास की बुकिंग करायी।
104 सर्विस जा रही है नोआपाड़ा तक
नोआपाड़ा-कविसुभाष-नोआपाड़ा के बीच चलने वाली मेट्रो की परिसेवा में 110 सर्विसेज चलायी जा रही है। इसमें 104 सर्विसेज है जो कि नोआपाड़ा तक का सफर तय कर रही है। वहीं 6 सर्विसेज ही है दमदम तक जा रही है।
आईडी कार्ड दिखाकर वृद्ध कर सकते हैं एंट्री
मेट्रो रेलवे की ओर से यह निर्णय लिया गया है कि सुबह 11.30 से लेकर शाम 4.30 बजे वृद्ध बिना ई पास के ही मेट्रो में एंट्री कर सकते हैं लेकिन उनके पास स्मार्ट कार्ड होना जरूरी है। एंट्री करने के लिए उन्हें वोटर आईडी, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, पासपोर्ट दिखाना होगा। इस बारे में जीएम मनाेज जोशी ने बताया कि युवा वर्ग व मध्यम उम्र के वर्ग के लिए ऐप डाउनलोड कर ई-पास जनरेट कर पाना आसान है लेकिन वृद्ध के लिए ऐप को डाउनलोड कर पाना संभव नहीं है।
ऐप डाउनलोड होने में हो रही है परेशानी
ई-पास के बिना एंट्री नहीं होगी इसकी जानकारी कइयों को नहीं है। एम जी रोड पर कार्यरत आरपीएफ के कर्मी ने बताया कि दिनभर में 200 ऐसे लोग आ रहे हैं जिन्होंने मोबाइल में ई पास के लिए मेट्रो या फिर पथदिशा ऐप को ही डाउनलोड नहीं रखा है। कईयों को यह बताना पड़ रहा है तो कई बिना ई पास के जाने की ही जिद्द करने लगते हैं। अभिषेक राउत ने कहा कि वह उन्हें एम जी रोड से बेलगछिया का सफर करना था लेकिन वे ऐप डाउनलोड करने में असफल हुए हैं। वहीं ऐप के माध्यम से बुकिंग भी हो गयी लेकिन सिस्टम के कारण कुछ लोग समय से पहले ही स्टेशन पर पहुंच जा रहे हैं। नोआपाड़ा की रहनेवाली ओयेशी गांगुली अपने पिता के साथ 3 बजे की मेट्रो पकड़ने के लिए 2 बजे ही एम. जी. मेट्रो पहुंच गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 7 विकेट से हराया

केकआर को मिली सीजन की पहली जीत,  गिल चमके अबुधाबी :सनराइजर्स के खिलाफ शानदार बोलिंग के बाद शुभमन गिल की बेहतरीन बल्लेबाजी की बदौलत कोलकाता नाइट आगे पढ़ें »

अकाली दल का दूसरा ‘बम’, भाजपा से 22 साल पुराना नाता तोड़ा

चंडीगढ : भारतीय जनता पार्टी के सबसे पुराने साथी शिरोमणि अकाली दल ने भाजपा का साथ छोड़ने की घोषणा कर दी है। उसने राष्ट्रीय जनतांत्रिक आगे पढ़ें »

ऊपर