भारत से लाभ उठाने के लिए नेपाल करेगा चीन के साथ रिश्ते गहरे

पेईचिंगः नेपाल के नए प्रधानमंत्री केपी ओली ने कहा है कि वह चीन के साथ संबंधों को प्रगाढ़ कर नए अवसर तलाशेंगे और भारत के साथ समझौतों में अधिक फायदा लेंगे। चीन की तरफ झुकाव रखने वाले ओली ने कहा कि वह बदलते समय के साथ भारत के साथ संबंधों में भी बदलाव करना चाहते हैं। ओली भारत-नेपाल संबंधों के सभी आयामों की समीक्षा करने के पक्ष में हैं, जिसमें भारतीय सेना में नेपाली जवानों के सेवा देने की काफी पहले से चली आ रही परंपरा भी शामिल है।
बेहतर कनेक्टिविटी और खुले बॉर्डर
सूत्रों के मुताबिक सीपीएन-यूएमएल के अध्यक्ष ओली ने कहा ‘भारत के साथ हमारी बेहतरीन कनेक्टिविटी है, खुले बॉर्डर हैं। यह सब तो ठीक है, हम कनेक्टिविटी और बढ़ाएंगे भी लेकिन हम यह नहीं भूल सकते कि हमारे दो पड़ोसी हैं। हम किसी एक देश पर ही निर्भर नहीं रहना चाहते। केवल एक विकल्प पर नहीं।’
डॉलर हाइड्रोप्रॉजेक्ट का पुनः प्रवर्तन करेंगे
भारतीय सेना में नेपालियों के सेवा देने के मुद्दे पर ओली ने कहा, ‘अगर जरूरत हुई तो इस पर आंतरिक रूप से आपस में चर्चा की जाएगी और सुधार किए जाएंगे। दुनिया बदल चुकी है और नेपाल नए सफर की शुरुआत कर रहा है। हम घिसी-पिटी परंपराओं को घसीटने की बजाए उनमें बदलाव करेंगे।’ ओली ने कहा कि पिछली सरकार द्वारा ठुकराए गए चीन सरकार के 2.5 बिलियन डॉलर हाइड्रोप्रॉजेक्ट को वह पुनः प्रवर्तन करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Nitin Gadkari

क्रिकेट और राजनीति में कुछ भी हो सकता है- नितिन गडकरी

मुंबई : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र में जारी सियासी घटनाक्रम के बीच बड़ा बयान दिया है। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के बाद राष्ट्रपति आगे पढ़ें »

income tax office

सरकार ने 50 फीसद टैक्स कलेक्शन का लक्ष्य पूरा किया, अब तक 6 लाख करोड़ रुपये जुटाए

नई दिल्ली : सरकार ने इस वर्ष टैक्स कलेक्शन का लक्ष्य 13.5 लाख करोड़ रुपये रखा है, जिसका 50 फीसद अब तक पूरा किया जा आगे पढ़ें »

ऊपर