भाजपा की राजनीति समाज विभाजनकारी  है : अखिलेश यादव

लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा)अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी की राजनीति समाज को बांटने की है।
अखिलेश यादव ने मंगलवार को यहां जारी बयान में कहा कि भाजपा आपसी रिश्तों में नफरत घोलने का काम करती है और समाज को बांटने की राजनीति करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा से सावधान रहना होगा और इन्हें सबक सिखाना होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसानों के अलावा नौजवानों को भी धोखा दिया है। हर वर्ष दो करोड़ नौकरियां देने का वादा भाजपा का था, नौकरियां तो मिली नहीं, लाखों कर्मचारी बर्खास्त हो गए हैं। अखिलेश ने कहा कि अपने देश-प्रदेश का किसान मेहनत से फसल उगाता है लेकिन उसे फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल पाता है। भाजपा सरकार किसानों को ड्योढ़े दाम दिलाने, आमदनी दुगनी करने के झांसे दिलाती रही है। वह खुद विदेशी तेल पॉम आयल का आयात ज्यादा कीमत पर करती है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा की गलत नीतियों से देश की अर्थव्यवस्था रसातल में चली गयी है। नोटबंदी और जीएसटी की वजह से उद्योग धंधे बंद हो गए हैं। बेरोजगारी बढ़ी है। महंगाई की मार से आम आदमी की जिंदगी दूभर हो गयी है। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार तीन साल हो गए अपनी एक भी जनहित की योजना लागू नहीं कर सकी। समाजवादी पार्टी की सरकार ने विकास के जो काम किए थे, उन्हें ही अपना बताकर दिन काट रही है। उन्होंने कहा कि जनता सब जानती और समझती है। समाजवादी पार्टी का लोकतंत्र पर अटूट भरोसा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वैश्विक इकोनॉमी मे रिकवरी की उम्मीद से कच्चे तेल को मिला प्रोत्साहन, निवेशक सोने से दूर हुए

नई दिल्ली : चीनी अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीद ने पिछले हफ्ते सोने की कीमतों पर नकारात्मक प्रभाव डाला है। सोने की कीमतों में पिछले आगे पढ़ें »

सरकार जल्द दे सकती है दो से तीन लाख करोड़ रुपये के बूस्टर पैकेज, इन क्षेत्रों को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना के कारण देश की अर्थव्यवस्था को लगातार नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। उद्योग को पटरी पर लाने और नुकसान आगे पढ़ें »

ऊपर