बॉम्बे हाईकोर्ट ने माल्या की याचिका को किया खारिज

vijay-mallya

मुंबई : बॉम्बे हाईकोर्ट ने गुरुवार को 63 वर्षीय भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें सरकारी एजेंसियों को उसकी संपत्तियों के विरद्ध कार्रवाई करने से रोकने की अपील की गई थी। याचिका में कहा गया था कि जब तक उसे बैंक धोखाधड़ी मामले में हाईकोर्ट भगोड़ा आर्थिक अपराधी होने का फैसला न सुना दे तब तक किसी तरह कि कार्रवाई न की जाए। मालूम हो कि इस साल जनवरी में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की विशेष अदालत ने माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था, जिसे माल्या ने बॉम्बे हाईकोर्ट में चुनौती दे रखी है।
इस तरह कर्ज वसूलना चाहता है बैंक
भगोड़े शराब कारोबारी माल्या पर भारतीय बैंकों के करीब 9 हजार करोड़ रुपए लेकर भाग जाने का आरोप है। इस धनराशि को वसूल करने के लिए बैंक माल्या की जब्त की गई संपत्तियों को बेचना चाहते हैं। हालांकि माल्या अभी लंदन में रह रहा है।

गौरतलब हो कि पिछले वर्ष दिसंबर में लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने माल्या के प्रत्यर्पण की मंजूरी दे दी थी। साथ ही यूके के गृह सचिव ने भी इसकी मंजूरी दी थी, जबकि माल्या इस फैसले को चुनौती देना चाहता है। बता दे कि गत दिनों यूके हाईकोर्ट ने उसे प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील की इजाजत दी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर