बुलंदशहर में दो साधुओं की निर्मम हत्या

बुलंदशहरः उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर के अनूपशहर क्षेत्र में मंदिर में सो रहे दो साधुओं की गला रेतकर हत्या किये जाने से हडकंप मच गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने मंगलवार को यहां बताया कि अनूपशहर – शिकारपुर मार्ग में स्थित पगोना गांव में शिव मंदिर है। मंदिर की देखभाल पिछले दस वर्षों से अलीगढ़ निवासी बाबा गरीबदास उर्फ जगन दास(55) तथा उनका शिष्य शेरसिंह उर्फ सेवादास(35)करते थे। सोमवार रात में दोनों मंदिर परिसर के कमरे में सो रहे थे। इस बीच एक नशे में धुत व्यक्ति ने धारदार हथियार से दोनों साधुओ की गला रेतकर हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है। दो साधुओं की हत्या से इलाके में रोष व्याप्त है। लोगों को मामले की जानकारी सुबह हुई जब लोग मंदिर में पूजा करने गये थे। सूचना मिलने पर एसएसपी संतोष कुमार सिंह पुलिस बल के साथ फोरेंसिक टीम को लेकर गांव पहुंये। पुलिस ने हत्या के आरोप में एक व्यक्ति मुरारी को नशे की हालत में ग्रामीणों की मदद से गिरफ्तार किया है।
एसएसपी ने बताया की दो दिन पहले मुरारी ने साधु जगदीश दास का चिमटा गायब कर दिया था जिसे लेकर बाबा ने उसे बुरा भला कहा और फटकार भी लगाई। उन्होंने बताया कि आरोपी नशे का आदी है। बाबा की फटकार से आहत होकर मुरारी ने तनाव में दोनों साधुओं की हत्या कर दी। शवो को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
गहलोत ने दो साधुओं की हत्या की निंदा की
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में एक मंदिर में दो साधुओं की नृशंस हत्या की निंदा की हैं।श्री गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए इसकी निंदा करते हुए कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए और दोषियों को सख्त सजा दी जानी चाहिए।
अखिलेश ने हत्या की निंदा की
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुलंदशहर में मंदिर परिसर में दो साधुओं की नृशंस हत्या की निंदा करते हुये कहा कि हत्याओं का राजनीतिकरण न करके समय रहते कार्रवाई की जानी चाहिये।श्री यादव ने ट्वीटकर कहा ,उप्र के बुलंदशहर में मंदिर परिसर में दो साधुओं की नृशंस हत्या अति निंदनीय व दुखद है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पहली जीत के बाद धोनी ने कहा, अनुभव हमेशा काम आता है

नयी दिल्‍ली : आईपीएल के पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के जीत के बाद टीम के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अनुभव आगे पढ़ें »

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नये न्यायाधीश की दौड़ में भारतीय मूल के जज अमूल थापर आगे

वाशिंगटन : अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नये न्यायाधीश के पद की दौड़ में भारतीय मूल के न्यायाधीश अमूल थापर सबसे आगे हैं। सुप्रीम कोर्ट की आगे पढ़ें »

ऊपर