बुधवार का व्रत दिलाएगा त्वचा संबंधी रोगों एवं व्यापार में घाटे से मुक्ति, जानें व्रत पूजा विधि

कोलकाता : हिंदू धर्म में सप्ताह का प्रत्येक दिन किसी ना किसी देवी-देवता को समर्पित किया जाता है। इसी तरह से बुधवार का दिन भगवान गणेश के लिए समर्पित किया गया है। यदि पूरी श्रद्धा और विश्वास के साथ गणेश भगवान की पूजा आराधना की जाए तो जीवन की परेशानियों और विघ्न-बाधाओं से मुक्ति प्राप्त होती है। यदि अत्यधिक कर्ज के कारण परेशान हैं या लगातार व्यापार में घाटा हो रहा है या फिर परिवार में नकारात्मकता के कारण कलह की स्थिति रहती है। त्वचा संबंधी रोगों से परेशान हैं तो इन सब परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए बुधवार का व्रत बहुत लाभकारी रहता है। बुधवार के दिन यदि विधि-विधान से श्रद्धा पूर्वक व्रत किया जाएं तो इससे बुध ग्रह तो अनुकूल होता ही है साथ ही भगवान गणेश की कृपा से आपके जीवन की सभी विघ्न बाधाएं दूर हो जाती हैं। परिवार में सुख-समृद्धि, शांति और शुभता का वास होता है। जानते हैं व्रत नियम, विधि।
* पूजन के नियम
* जिस बुधवार को व्रत आरंभ करना है उस दिन प्रात: सूर्योदय के समय उठकर स्नानादि करके जितने व्रत करने हैं उनका संकल्प लें।
* घर के मंदिर में गणओअति यंत्र की स्थापना करें और भगवान गणेश का आवाहन करें।
* रोली, अक्षत, दीपक, धूप, दूर्वा आदि से गणेश जी का पूजन करें।
* इसके बाद व्रत की कथा पढ़े और गणेश जी को लड्डू या फिर हलवे का भोग लगाएं।
* पूजा करके आरती करें और अपनी गलतियों की क्षमा प्रार्थना करें।
* भगवान गणेश से कष्टों को दूर करने की प्रार्थना करें और दिनभर फलाहार व्रत रखें।
* बुधवार के व्रत में आपको नमक का सेवन न करें।
शाम को पूजन करें और सर्वप्रथम प्रसाद ग्रहण करके व्रत खोलें।
* इस दिन असहाय या जरूरतमंद व्यक्ति को क्षमतानुसार हरी मूंग की दाल और हरे रंग के वस्त्र दान दें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बेटे ने वित्तीय हालत खराब होने पर मां को भेजा वृद्धाश्रम, फिर…

औरंगाबाद: महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में एक बुजुर्ग महिला को वृद्धाश्रम में रहने के लिए मजबूर होना पड़ा, क्योंकि उसके बेटे ने कोरोना वायरस को आगे पढ़ें »

फिर अपने कपड़े उतारेंगी पूनम पांडे! विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को लेकर दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली: 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल मैच को लेकर भी विवादित बयान देने वाली मशहूर मॉडल और एक्ट्रेस पूनम पांडे ने एक बार फिर बड़ा आगे पढ़ें »

ऊपर