बांग्लादेशी घुसपैठियों द्वारा ‘छीने गए’ अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करेगा एनआरसी : भाजपा

रांची : झारखंड भाजपा ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) देश के अल्पसंख्यकों के उन अधिकारों की रक्षा करेगी जो बांग्लादेशी घुसपैठियों ने उनसे ‘छीन लिए’ हैं।
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने यहां एक बयान में कहा, ‘देश में रह रहे अल्पसंख्यकों को उनके कानूनी अधिकार मिलेंगे और एनआरसी उनके उन अधिकारों की रक्षा करेगा, जो बांग्लादेश से आए घुसपैठिए ने उनसे छीन लिए हैं।’ उन्होंने विपक्षी दलों से कहा कि वे संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर ‘अल्पसंख्यकों के मन में भय पैदा नहीं करें’ बल्कि उन्हें बताएं कि सीएए में ‘उनके खिलाफ कुछ भी नहीं है।’ शाहदेव ने कहा, ‘सीएए के अनुसार एक दिसंबर, 2014 को या उससे पहले अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से आए हिंदू, बौद्ध, जैन, पारसी, ईसाई और सिख समुदायों के लोगों को अवैध घुसपैठिये (प्रवासी) नहीं समझा जाएगा।’ उन्होंने कहा कि सीएए की धारा 6बी (4) के अनुसार यह कानून असम, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के आदिवासी इलाकों के अलावा संविधान की छठी अनुसूची के तहत आने वाले इलाकों में लागू नहीं होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सरकार जल्द दे सकती है दो से तीन लाख करोड़ रुपये के बूस्टर पैकेज, इन क्षेत्रों को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना के कारण देश की अर्थव्यवस्था को लगातार नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। उद्योग को पटरी पर लाने और नुकसान आगे पढ़ें »

कोविड-19 : रीजिजू ने खिलाड़ियों को व्यस्त रखने की पहल की समीक्षा की

नयी दिल्ली : खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कोविड-19 महामारी के कारण 21 दिन के लॉकडाउन (राष्ट्रव्यापी बंद) के मद्देनजर मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण आगे पढ़ें »

ऊपर