बच्चों का यौन शोषण करने वालों को मिलेगी मौत, पॉक्सो कानून में बदलाव को मिली मंजूरी

नई दिल्ली : केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार अब बच्चों के यौन शोषण के खिलाफ सख्त कदम उठाने जा रही है। इसी के तहत केन्द्रीय कैबिनेट ने बुधवार बाल यौन अपराध संरक्षण (पॉक्सो) कानून में संशोधनों को मंजूरी दी है। नए बदलाव में बच्चों का यौन शोषण करने वालों को मौत की सजा देने का प्रावधान शामिल किया गया है।
बाल यौन उत्पीड़न पर अंकुश लगेगा
इस संबंध में अधिकारियों ने बताया कि पॉक्सो कानून में चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी पर लगाम लगाने के लिए भी इस संशोधन में सजा और जुर्माने के प्रावधान को शामिल किया गया है। वहीं सरकार का कहना है कि इन संशोधनों से बाल यौन उत्पीड़न पर अंकुश लगने की उम्मीद है क्योंकि कानून में शामिल किए गए ठोस सजा के प्रावधान इसे रोकने का काम करेंगे।
सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित करने की मंशा
सरकार ने कहा कि “इसकी मंशा परेशानी में फंसे असुरक्षित बच्चों के हितों का संरक्षण करना तथा उनकी सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित करने की है। संशोधन का उद्देश्य बाल उत्पीड़न के पहलुओं तथा इसकी सजा के संबंध में स्पष्टता लाना है।”

बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में बच्चों के साथ होने वाले यौन अपराधों में तेजी आई है। कई घटनाएं ऐसी भी सामने आई है जिसमें बच्चों को हवस का शिकार बनाने के बाद अपना अपराध छिपाने के लिए दरिंदे उसकी हत्या तक करने से परहेज नहीं करते हैं। ऐसे में देश के बच्चों की सुरक्षा के लिए जरूरी हो गया था कि सरकार बाल अपराध संरक्षण कानून को और सख्त करे।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं सामने आई थीं। दरिंदों ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने के बाद उनकी हत्या कर दी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नड्डा ने भाजपा की नयी टीम में दी नये चेहरों को जगह, उपाध्यक्ष बनाये गये मुकुल रॉय  

उमा, राम माधव, राव, सरोज व जैन की महासचिव पद से छुट्टी नयी दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आगे पढ़ें »

खुली मिठाइयों पर बेस्ट बिफोर, कुछ तैयार, कुछ असमंजस में

  कोलकाताः खाद्य नियामक फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) ने देश में निर्देश जारी करते हुए खुली मिठाइयों पर 'बेस्ट बिफोर डेट' देने आगे पढ़ें »

ऊपर