पंजाब से राजस्थान आ रहे जहरीले पाने से निजात दिलाने के लिए आंदोलनकारियों ने वसुंधरा से मांगा सहयोग

श्रीगंगानगर : पंजाब से राजस्थान आ रहे नहर के जहरीले पानी से निजात दिलाने के लिए गठित जन जागरण समिति ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से इस हेतु चलाये जाने वाले आंदोलन में सहयोग मांगा है। समिति के संयोजक महेश पेड़ीवाल एवं उम्मेदसिंह राठौड़ के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को जयपुर में वसुंधरा से भेंट में कहा कि श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिलों सहित पश्चिमी राजस्थान के 8 जिलों में कैंसर जैसी बीमारियों का कारण बन रहे विषाक्त पानी की समस्या से निजात दिलाई जाय। वसुंधरा ने शिष्टमंडल को से कहा कि वे पहले से ही इस समस्या के प्रति गंभीर रहीं हैं और अपने कार्यकाल के दौरान इस मसले को लेकर पंजाब सरकार को पत्र लिखकर आग्रह किया कि पंजाब में गंदा और रसायनयुक्त पानी दरियाओं एवं नहरों में डालने से रोकने के लिए पर्याप्त उपाय किये जायें। वे इस आंदोलन में अपना पूरा सहयोग करेंगी। इस गंभीर मसले को लेकर जन जागरण अभियान चला रही समिति ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने के लिए समय मांगा है। समिति के वरिष्ठ सदस्य रमजान अली चौपदार ने बताया कि प्रभावित सभी 8 जिलों के कांग्रेस नेताओं से भी संपर्क किया जा रहा है। मांग की जायेगी कि पंजाब में कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से बातचीत कर इस समस्या का स्थाई समाधान किया जाये। मालूम हो कि विधानसभा और लोकसभा चुनाव के दौरान गहलोत ने श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ एवं बीकानेर आदि जिलों में रैलियों में खुद इस बात पर चिंता जाहिर की थी कि पंजाब से आ रहा पानी पीने के लायक नहीं रहा। उन्होंने कहा था कि वे इस बारे में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से बात करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर