नीतीश कुमार ने जनता से किया विश्वासघात : तेजस्वी यादव

Congress not accepting tejasvi's leadership

पटना : बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने मंगलवार को कहा कि मुख्यमंत्री एवं जनता दल (यूनाइटेड) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन कर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी से कहीं अधिक देश की जनता के साथ विश्वासघात किया है।
तेजस्वी यादव ने यहां राष्ट्रीय जनता दल की राष्ट्रीय परिषद की बैठक एवं 11वें खुला अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने नागरिकता संशोधन विधेयक लाकर देश को तोड़ने का काम किया है। जनादेश का विश्वासघात किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस विधेयक को समर्थन देकर आरएसएस और भाजपा से कहीं अधिक देश की जनता के साथ विश्वासघात किया है। राजद नेता ने कहा कि नीतीश कुमार के इस रवैये से जदयू में भी काफी असंतोष है। उन्होंने किसी भी नेता का नाम लिए बगैर कहा कि जद (यू) के कई नेता पाला बदलने के लिए तैयार बैठे हैं और सिर्फ थोड़ा जोर लगाने की जरूरत है। हालांकि उन्होंने कहा कि वह नकारात्मक राजनीति में विश्वास नहीं रखते। तेजस्वी यादव ने कहा कि देश अभी बहुत ही बुरे दौर से गुजर रहा है। राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने वर्ष 2014 में सवाल उठाया था कि भाजपा सरकार में देश बचेगा या टूटेगा। उन्होंने कहा, ‘यदि उस समय लोग सचेत हो गए होते तो भाजपा के नेतृत्व में राजग सत्ता में नहीं आती। राजद अध्यक्ष यदि हम लोगों के बीच होते तो देश और बिहार को यह दिन नहीं देखना पड़ता।’

 नोटबंदी से रोजगार और भ्रष्टाचार क्या समाप्त हो सका है?

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि रात के अंधेरे में सरकारें बदल जा रही हैं। अंधेरे में ही बड़े-बड़े फैसले लिए जा रहे हैं। देश में विकास का काम नहीं हो रहा है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से लोगों को क्या लाभ हुआ? नोटबंदी से रोजगार और भ्रष्टाचार क्या समाप्त हो सका है?
राजद नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अब राज्य संभल नहीं रहा है और वह थक गए हैं। राज्य में अपराध और भ्रष्टाचार अपने चरम पर है। आए दिन बलात्कार की घटनाएं हो रही हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार ने संप्रदायिकता, अपराध और भ्रष्टाचार से समझौता कर लिया है। सृजन घोटाले जैसे अब तक प्रदेश में 45 घोटाले हो चुके हैं। शराबबंदी के नाम पर घर-घर होम डिलीवरी की जा रही है।
तेजस्वी ने  कहा कि राजद अध्यक्ष ने महागठबंधन बनाकर नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री के पद पर बैठाया लेकिन साजिश के तहत नीतीश भाजपा की गोद में चले गए। उन्होने कहा कि नीतीश कुमार ने जनादेश का अपमान कर राजद अध्यक्ष को ठगने का काम किया है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि नीतीश कभी भी किसी के साथ वफादारी नहीं कर सकते। बिहार को बचाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बिहार में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, विकास के साथ ही युवाओं के पलायन को रोकने समेत कई अन्य मुद्दों पर काम किया जाएगा। पार्टी अभी से ही इसकी रूपरेखा तैयार करने में जुटी गयी है। इससे पूर्व खुला अधिवेशन में राजनीतिक, आर्थिक, विदेश नीति, शिक्षा, अनुसूचित जाति-जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और महिला सशक्तीकरण के साथ ही राजद के संविधान से संबंधित संशोधन प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किए गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

टोक्‍यो : टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति के दो कर्मचारी कोविड-19 जांच में पॉजिटिव आये हैं। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। इस तरह समिति आगे पढ़ें »

महिला विश्व कप 2021 की मेजबानी में सक्षम लेकिन आईसीसी के फैसले का सम्मान : न्यूजीलैंड

क्राइस्टचर्च : न्यूजीलैंड के खेल मंत्री ग्रांट रॉबर्टसन ने शनिवार को कहा कि उनका देश अगले साल प्रस्तावित महिला एकदिवसीय विश्व कप की मेजबानी कर आगे पढ़ें »

ऊपर