झारखंड में थम गया चौथे चरण के चुनाव-प्रचार का शोर

रांची : झारखंड में चौथे चरण में 16 दिसंबर को 15 सीटों के लिए होने वाले विधानसभा चुनाव के प्रचार का शोर शनिवार शाम समाप्त हो गया। चौथे चरण में 16 दिसंबर 2019 को मधुपुर, देवघर (सुरक्षित), बगोदर, जमुआ (सु), गांडेय, गिरिडीह, डुमरी, बोकारो, चंदनक्यारी (सु), सिंदरी, निरसा, धनबाद झरिया, टुंडी और बाघमारा में होने वाले चुनाव का प्रचार शनिवार अपराह्न तीन बजे समाप्त हो गया। अब प्रत्याशी हर घर जाकर प्रचार करेंगे।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने शनिवार को यहां बताया कि मधुपुर, देवघर, गांडेय, बोकारो, चंदनक्यारी, सिंदरी, निरसा, धनबाद झरिया और बाघमारा में सोमवार को सुबह सात से शाम पांच बजे तक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे, वहीं नक्सल प्रभावित बगोदर, जमुआ, गिरिडीह, डुमरी और टुंडी में सुबह सात से अपराह्न तीन बजे तक मतदान होगा। चौथे चरण में कुल 4785009 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर 221 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कैद कर देंगे। मतदाताओं में 2540794 पुरुष, 2244134 महिला और 81 थर्ड जेंडर शामिल हैं। चौथे चरण में देवघर (एससी), गांडेय, बोकारो औऱ झरिया विधानसभा क्षेत्र में भी बूथ एप का उपयोग किया जाना है। इससे पहले दूसरे चरण में जमशेदपुर (पूर्व), जमशेदपुर (पश्चिम) और चाईबासा तथा तीसरे चरण में रामगढ़, हजारीबाग और रांची में बूथ एप का इस्तेमाल हो चुका है। मधुपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए 13, देवघर के लिए 12, बगोदर के लिए 12, जमुआ के लिए 14, गांडेय के लिए 12, गिरिडीह के लिए 12, डुमरी के लिए 15, बोकारो के लिए 25, चंदनक्यारी के लिए 15, सिंदरी के लिए 16, निरसा के लिए आठ, धनबाद के लिए 22, झरिया के लिए 17, टुंडी के लिए 13 औऱ बाघमारा के लिए 15 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बजट : रियल एस्टेट क्षेत्र के विकास के लिए सीआईआई ने दिए ये सुझाव

नई दिल्ली : आगामी बजट में देश के रियल एस्टेट क्षेत्र को राहत देने के लिए उद्योग संगठन चैंबर सीआईआई ने सरकार से घर खरीदारों आगे पढ़ें »

छोटे कारोबारियों के लिए जीएसटी भुगतान हुआ आसान

नई दिल्ली : छोटे व्यापारियों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। 5 करोड़ रुपये या उससे कम के सालाना व्यापार करने वाले लोगों को आगे पढ़ें »

ऊपर