झारखंड मुक्ति मोर्चा के डीएनए में ही नहीं है विकास : रघुवर दास

raghuvar das

सरायकेला : झारखंड के मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) पर राज्य को लूटने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि उसके डीएनए में विकास नहीं है।
रघुवर दास ने सरायकेला विधानसभा क्षेत्र के राजनगर स्थित कुनाबेड़ा में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आदिवासियों और मूलवासियों की समृद्धि का नारा देने वाले कांग्रेस और झामुमो ने झारखंड को केवल लूटा है। इनकी मिलीभगत से चार हजार करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है। भाजपा नेता ने सवालिया लहजे में कहा कि झामुमो तो ऐसी पार्टी है, जिसने राज्य के आंदोलनकारियों को सम्मान तक नहीं दिया जबकि पिता (झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन) और पुत्र (झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन) दोनों राज्य के मुख्यमंत्री रहे, वे क्या झारखंड का विकास करेंगे। झामुमो के डीएनए में विकास है ही नहीं। रघुवर ने कहा कि झारखंड गठन के बाद वर्ष 2014 तक राजनीतिक अस्थिरता थी। विकास और कानून व्यवस्था सुदृढ़ नहीं थी। भ्रष्टाचार और उग्रवाद चरम पर था। विगत पांच वर्ष में एक बेदाग सरकार रही, जिसपर भ्रष्टाचार का एक भी और आरोप नहीं लगा। उन्होंने कहा कि झारखंड में उग्रवाद आज अंतिम सांसें गिन रहा है, जो बचे हैं उसे भी समाप्त कर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में झारखंड के सिर्फ 38 लाख घरों में बिजली थी। 30 लाख घर बिजली से वंचित थे। उनकी सरकार ने पिछले पांच वर्ष के अंदर 30 से लाख घरों तक बिजली पहुंचा दी। जिस राज्य में 134 ग्रिड की जरूरत थी, वहां कांग्रेस के 67 साल के कार्यकाल में मात्र 38 ग्रिड बने थे। वर्तमान सरकार 70 ग्रिड एवं 200 सब स्टेशन का कार्य फरवरी 2020 तक पूरा कर देगी। इसके बाद 24 घंटे बिजली जनता को उपलब्ध हो सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना और मुख्यमंत्री किसान आशीर्वाद योजना के जरिए राज्य के 35 लाख किसानों को लाभान्वित करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योजनाओं के तहत किसानों को दो किस्त में राशि कृषि कार्य के लिए प्रदान की गई है। जनवरी माह में किसानों को तीसरी किस्त भी दे दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना नया भारत नया झारखंड बनाने का है। वर्ष 2022 तक कोई भी बेघर न रहे। इस दिशा में कार्य हो रहा है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जरूरतमंदों को आवास मिला है। रघुवर ने कहा कि राज्य सरकार ने भी भीमराव अंबेडकर योजना के तहत विधवा बहनों को, मछुआरा भाइयों के लिए वेद व्यास योजना के तहत घर उपलब्ध कराया है। उन्होंने कहा कि पहाड़ों पर रहने वाले आदिम जनजाति परिवार को बिरसा आवास योजना का लाभ मिल रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘ईचा डैम निर्माण के नाम पर वोट बैंक की राजनीति हुई। मैं विश्वास दिलाता हूं कि ईचा डैम निर्माण में कोई गांव विस्थापित नहीं होगा। यह सत्य है कि विकास कार्य में जमीन की जरूरत होती है। वर्तमान सरकार पहले पुनर्वास फिर विस्थापन के तहत कार्य करती है। उन्होंने कहा कि विधानसभा भवन के निर्माण में विस्थापित लोगों को पुनर्वासित किया गया। विस्थापन झारखंड को विरासत में मिली है।’ भाजपा नेता ने कहा, ‘आपके विधायक कल्याण मंत्री भी रहे लेकिन क्षेत्र और जनता के प्रति विकास में गंभीरता नहीं दिखाई लेकिन खुद का कल्याण जरूर किया। उन्होंने यहां निर्मित होने वाले पुल का निर्माण नहीं होने दिया। बाप विधायक और बेटा ठेकेदार ने विकास को रोका लेकिन इस पुल का निर्माण जरूर होगा। राजनीतिक अपराधिकरण को प्रश्रय नहीं मिलेगा। विकास कार्य में अवरोध करने वालों को घाघीडीह जेल भेजा जाएगा।’ रघुवर ने कहा कि यहां की बच्चियों की मांग के अनुरूप राजनगर में महिला कॉलेज खुलेगा। आवश्यकता के अनुरूप औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) प्रारम्भ करने का कार्य होगा। कुनाबेड़ा समेत राज्य के अन्य को प्रखंड, पंचायत और जिला बनाया जाएगा। सरकार गठन के तीन माह के अंदर इस कार्य को अमलीजामा पहनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 से पूर्व आदित्यपुर गम्भरिया में कई उद्योग बंद थे, जिसे वर्ष 2014 के बाद प्रारम्भ किया गया। इससे करीब एक लाख लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिला है। उन्होंने कहा कि यह सब नयी उद्योग नीति की वजह से संभव हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उड़ान की लैंडिंग के बाद अब झटपट यात्री विमान से निकल सकेंगे बाहर

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : उड़ान परिसेवा को दुरुस्त बनाने के लिए एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया नयी-नयी तकनीकियों और अवसरों पर काम करता आ रहा है। ऐसे आगे पढ़ें »

हावड़ा के सैकड़ों एटीएम हैं असुरक्षित-सीपी

सन्मार्ग संवाददाता,हावड़ा : एटीएम स्कीमिंग फ्रॉड के मामले सामने आने के बाद गुरुवार को हावड़ा पुलिस आयुक्त गौरव शर्मा ने कुछ बैंक अधिकारियों के साथ आगे पढ़ें »

ऊपर