भारत पर हमले की फिराक में जैश-ए-मोहम्‍मद ने तालिबान से हाथ मिलाया

नई दिल्लीः बालाकोट में जैश के कैंपों पर हुए भारतीय हवाई हमले के बाद बौखलाए जैश ने तालिबान के सा‌थ मिलकर भारत पर बड़े आतंकी हमले की साजिश में लगा हुआ है। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, पीओके में भारतीय वायुसेना की तरफ से बालाकोट में हवाई हमले से पहले जैश प्रमुख मौलाना मसूद अजहर ने तालिबान, हक्कानी गुटों के कमांडरो के साथ बैठक की थी। इस बैठक में ये फैसला लिया गया है कि जैश तालिबान के साथ मिलकर भारत और अफगानिस्तान में हमला करेगा। खुफिया एजेंसियों की इस रिपोर्ट के बाद से सुरक्षा एजेंसियां लगातार जैश की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है।
पाकिस्तान में हुई बैठक
सुरक्षा से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक, ‘जैश चीफ मसूद अजहर और तालिबानी आतंकियों के बीच 15-20 दिसंबर के दौरान पाकिस्तान में एक बैठक हुई। जिसमें जैश और तालिबान ने मिलकर एक साथ भारत पर आतंकी हमले की योजना बनाई गई है। खबर के मुताबिक, तालिबान जैश के आतंकियों को बड़े हमले के लिए ट्रेनिंग देगा, जैसा की अफगानिस्तान में तालिबानी आंतकी हमले करते हैं।
आईएसआई चाहती थी कई आतंकियों को साथ लाना
खुफिया एजेंसी के मुताबिक, जैश ने जहां तालिबान के साथ मिलकर भारत पर हमले की योजना बनाई है, वहीं ये खतरा अफगानिस्तान में भी लगातार बना हुआ है। खुफिया एजेंसियों को शंका जाहिर की है कि अफगानिस्तान में भारतीयों ठिकानों और इंस्‍टॉलेश पर तालिबान के हमले का खतरा है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, पाकिस्तान की आइएसआई लगातार जैश, तालिबान और हक्कानी गुटों के साथ बैठक कर रही है, जिससे भारत को अफगानिस्तान में चोट पहुंचाई जा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बांग्लादेशी घुसपैठियों द्वारा ‘छीने गए’ अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करेगा एनआरसी : भाजपा

रांची : झारखंड भाजपा ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) देश के अल्पसंख्यकों के उन अधिकारों की रक्षा करेगी जो बांग्लादेशी घुसपैठियों आगे पढ़ें »

अपराध

मानव शृंखला के दौरान एक शिक्षक व एक महिला की मौत, 13 घायल

दरभंगा : बिहार के दरभंगा जिले में रविवार को ‘जल-जीवन-हरियाली अभियान’ एवं नशामुक्ति के पक्ष में तथा बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ केवटी आगे पढ़ें »

ऊपर