जुर्म : तस्करी का यह तरीका देख पुलिस भी रह गई दंग

नई दिल्ली : मरीजों को अस्पताल पहुंचाने वाला एम्बुलेंस भी अब अपराधियों के लिए अपराध बढाने का जरिया बनता जा रहा है। अपराधी इसे तस्करी आदि के लिए इस्तेमाल करने लगे हैं। दिल्ली पुलिस की नार्थ डिस्ट्रिक्ट के स्पेशल स्टॉफ ने ऐसे ही एक गैंग का खुलासा किया है। यह गैंग एंबुलेंस से गांजे की तस्करी करते थे। पुलिस ने इस मामले में अब तक 4 तस्करों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 80 किलो गांजा बरामद हुआ, जिसकी कीमत करीब 1 करोड़ 80 लाख है।

जानकारी के मुताबिक पुलिस को अपने खूफिया सूत्रों के हवाले से इस गिरोह का पता चला था। उक्त शिकायत के आधार पर गत 9 तारीख को गुलाबी बाग से राजीव नाम के बदमाश को गिरफ्तार किया। उससे पूछताछ करने के बाद उसके इलाके से ही सरिता नाम की एक महिला को गिरफ्तार किया गया। जिसके पास से पुलिस ने गांजे की बड़ी खेप बरामद की। सरिता से पूछताछ आगे बढ़ी तो तस्करी का तरीका जानकर वहां मौजूद लोगों के होश उड़ गए।

तस्करी का साउथ कनेक्शन

जांच में पुलिस को पता चला कि इस मामले का साउथ कनेक्शन है। सूत्रों के मुताबिक इस गैंगा का लीडर शोलाई राज है। वह विशाखापटनम जाकर नशे की खेप हासिल करता, फिर दो साथियों की मदद से एंबुलेंस के जरिए गांजे को सड़क के रास्ते दिल्ली पहुंचाया जाता। इसके बाद उनका चौथा साथी इसे आगे तक पहुंचा देता था। शोलाई राज विशाखापटनम में एंबुलेंस से गांजा भेजने के बाद खुद फ्लाइट से दिल्ली आता था।

पुलिस अब इन लोगों से पूछताछ कर ये जाने की कोशिश कर रही है कि अबतक ये लोग इस तरह से कितनी बार गांजे की सप्लाई कर चुके है और इनको एंबुलेंस कैसे इतनी आसानी से मिल जाती थी?

शेयर करें

मुख्य समाचार

विराट अच्छे कप्तान लेकिन रोहित उनसे बेहतर : गंभीर

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने टी-20 टीम कप्तानी पांच बार के आईपीएल विजेता रोहित शर्मा को सौंपने की आगे पढ़ें »

साढ़े चार महीनों में 22 कोविड-19 जांच करायी : गांगुली

मुंबई : बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने मंगलवार को खुलासा किया कि महामारी के बीच अपनी पेशेवर प्रतिबद्धताओं को पूरा करने आगे पढ़ें »

ऊपर