जन्माष्टमी पर ऐसे करें पूजन, मिलेगी तरक्की, खत्म हो जाएगा गृहक्लेश

नई दिल्ली : 30 अगस्त को जन्माष्टमी है, इस दिन लोग न केवल भगवान कृष्ण का पूजन करते हैं बल्कि तमाम लोग झांकी भी सजाते हैं। वास्तुशास्त्र के अनुसार इस दिन भगवान कृष्ण की प्रिय चीजें लाने से भी आपको विशेष लाभ प्राप्त होता है। तो ऐसे ही तमाम लाभ के बारे में आज हम आपको बता रहे हैं। आप सोच रहे होंगे कि पूजन तो हम हर साल करते हैं और सब जरूरी चीजें चढ़ाते भी हैं तो आखिर ऐसी क्या खास चीज है, जो अभी तक आपने नहीं चढ़ाई है। कहीं ये बहुत महंगी तो नहीं होगी या मिलने में दिक्कत तो नहीं होगी। तो हम आपको बता दें कि ये बहुत सामान्य सी चीजें हैं जो सस्ते दामों में आपको आसानी से कहीं भी मिल जाएंगी और इन्हें चढ़ाकर आप अपनी तमाम समस्याएं दूर कर सकते हैं।
आजकल लोगों के सामने बहुत बड़ी समस्या करियर को लेकर होती है। अगर आपके करियर में तरक्की नहीं हो रही है तो जन्माष्टमी पर बांसुरी घर पर लाएं और इसे भगवान कृष्ण को अर्पित कर दें। दूसरे दिन घर में पूर्व दिशा में दीवार पर तिरछी लगा दें। जी हां, बांसुरी भगवान कृष्ण को बहुत प्रिय थी। वह इसे हमेशा साथ रखते थे। बांसुरी का वास्तु के अनुसार भी बहुत ही विशेष महत्व माना जाता है। तो इस जन्माष्टमी पर बांसुरी लाएं और करियर की समस्या से निजात पाएं। और तो और आपको ये भी बता दें कि ऐसी भी मान्यता है कि जिस घर में लकड़ी की बांसुरी होती है, वहां धन-धान्य की कभी कमी नहीं होती। लकड़ी की बांसुरी वास्तुशास्त्र के हिसाब से विशेष रूप से शुभ होती है। वहीं, कार्यालय या दुकान के मुख्य द्वार पर दो बांसुरी लगाने से व्यापार में प्रगति होती है। तो ध्यान रखें जन्माष्टमी पर नई बांसुरी खरीदकर सुंदर से सजाकर श्रीकृष्ण के समझ पूजा में रखें।
बांसुरी का महत्व यहीं नहीं खत्म होता। घर में कलह हो तो चांदी की या बांस की बांसुरी भगवान श्री कृष्ण को समर्पित करें। बाद में ड्राइंग रूम में लगा दें। ऐसा करने से अपके घर में कलह खत्म होगा। लोगों में प्रेम बढ़ेगा। दरअसल, बांसुरी सकारात्मक ऊर्जा को घर में लाती है। जब नकारात्मक ऊर्जा घर से खत्म होती है और सकारात्मक ऊर्जा आती है तो मन से भी झगड़े खत्म होने लगते हैं। इसके अलावा एक औऱ बहुत खास सामान है जिसे घऱ में लाकर आप आर्थिक तंगी से छुटकारा पा सकते हैं। ये हैं गाय और बछड़े की मूर्ति। जन्माष्टमी के दिन गाय और बछड़े की साथ में मूर्ति खरीदकर घर लाने और पूजन के बाद घऱ में रखने से घर में बरकत होती है। ध्यान रखें गाय भी भगवान कृष्ण की प्रिय होती है।
वहीं, एक और खास चीज है जो आपको जन्माष्टमी पर लानी चाहिए। ये है मोरपंख। घर के मंदिर में मोरपंख लगी बांसुरी रखने से रुके हुए काम पूरे होते हैं। भगवान कृष्ण भी अपने बालों में मोरपंख सजाकर रखते थे। उनका एक नाम मोरमुकुटधारी भी है। इन उपायों के अलावा जन्माष्टमी के दिन श्रद्धा-भक्ति से पूजन करें तो आपकी तमाम समस्याओं का समाधान हो सकता है। यहां ये बता दें कि ये सभी उपाय विभिन्न ज्योतिषविदों, वास्तुविदों और धार्मिक मान्यताओं के आधार पर बताए गए हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

फैट बर्न करके वजन घटा सकता है करी पत्ता

कोलकाता : आज हम आपके लिए लेकर आए हैं करी पत्ते के फायदे। करी पत्ता पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने और एनीमिया को दूर करने आगे पढ़ें »

ऊपर