कमलनाथ ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, नहीं दिखे सिंधिया

भोपाल : मध्‍यप्रदेश में 15 साल बाद एक बार फिर सत्‍ता में लौटी कांग्रेस को अपने नेता का चुनाव करने में भारी मशक्‍कत का सामना करना पड़ा। गांधी परिवार के समर्थक तथा 9 बार छिंदवाड़ा से सांसद रहे कमलनाथ को इसका ईनाम मिला उन्‍हें ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया पर तरजीह देते हुए प्रदेश की बागडोर सौंप दी गयी। प्रदेश कांग्रेस विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद शुक्रवार को भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच कमलनाथ ने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया। कमलनाथ ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को विधायकों की सूची भी सौंपी। कमलनाथ के साथ प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया, दिग्विजय सिंह, विवेक तन्खा और अरुण यादव साथ में रहे। हालांकि ज्योतिरादित्य सिंधिया कमलनाथ के साथ इस मौके पर मौजूद नहीं रहे। इस बीच मंत्रिमंडल के गठन की तैयारियां भी शुरू हो गई हैं। भोपाल के कलेक्टर सुदामा खाड़े और अन्य अधिकारियों ने लाल परेड ग्राउंड का निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लिया। कमलनाथ का शपथ ग्रहण समारोह 17 दिसंबर को लाल परेड ग्राउंड में 1.30 बजे होगा।


शेयर करें

मुख्य समाचार

Mamata Banerjee meets Amit Shah

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने की गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात

नई दिल्ली : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच मुलाकात आगे पढ़ें »

Akshaya Kumar

अक्षय कुमार ने दो घंटे का रास्ता बीस मिनट में किया पूरा

मुबंई : बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार हमेशा कुछ न कुछ अलग करते ही रहते हैं। रिस्क लेना या कोई नया रोमांच करना उन्हें काफी आगे पढ़ें »

ऊपर