चांद के दक्षिणी ध्रुव पर पहली बार उतरेगा कोई यान, इंसानों का रुकना आसान होगा

नई दिल्ली: भारतीय वैज्ञानिक पूरी कोशिश कर रहे हैं कि चांद पर इंसानों के रहने का सपना पूरी हो सके। इसी प्रयास को आगे बढ़ाने की दिशा में चंद्रयान-2 को पहली बार चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतारा जाएगा। अब तक यह क्षेत्र वैज्ञानिकों के लिए अनजान बना हुआ है। चांद के दक्षिणी ध्रुव पर बर्फ के रूप में पानी होने की संभावना ज्यादा है और अगर ऐसा होता है तो चांद पर इंसानों के रहने का सपना पूरा हो जाएगा। इतना ही नहीं ऐसा होने पर यहां बेस कैंप बनाया जा सकेगा और साथ ही चांद पर शोधकार्य के साथ-साथ अंतरिक्ष में नई खोज करने का मौका भी मिलेगा।
नहीं पहुंचतीं सूर्य की किरणें
चूंकि हम चांद के दक्षिणी ध्रुव की बात कर रहे हैं तो जाहिर सी बात है कि यहां सूर्य की किरणें नहीं पहुंचतीं हैं। दरअसल, होता ये है कि अगर कोई इंसान चांद के दक्षिणी ध्रुव पर खड़ा है तो उसे सूर्य क्षितिज रेखा पर दिखाई देगा, ऐसे में सूर्य चांद की सतह से लगता हुआ और चमकता हुआ दिखाई देगा। सूर्य की किरणें यहां सीधी नहीं पड़ती और इसी कारण यहां तापमान कम रहता है।
क्या कहा स्पेस इंडिया के प्रशिक्षण प्रभारी ने
स्पेस इंडिया के प्रशिक्षण प्रभारी तरुण शर्मा कहा कि चांद के दक्षिणी ध्रुव पर तापमान में ज्यादा बदलाव नहीं होता। यही कारण है कि वहां पर पानी मिलने की संभावना सबसे ज्यादा है। उन्होंने कहा कि “चांद का जो भाग सूर्य के सामने आता है, वहां का तापमान 130 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच जाता है। इसी तरह से चांद के जिस हिस्से पर सूरज की रोशनी नहीं आती, वहां तापमान 130 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला जाता है। लिहाजा, चांद पर हर दिन तापमान बढ़ता-चढ़ता रहता है।”
इसलिए नहीं रूक पाते चांद पर
तरुण शर्मा बताया कि चांद पर पानी न होने के कारण ही वहां अंतरिक्षयात्री ज्यादा दिन नहीं रुक पाते। चंद्रयान-2 अगर यहां बर्फ खोज पाता है, तो यह समस्या खत्म हो जाएगी। बर्फ से पीने के पानी और ऑक्सीजन की व्यवस्था हो सकेगी। इससे अंतरिक्ष यात्रियों के लिए लम्बे समय तक चांद पर रुकना संभव हो सकेगा।

मुख्य समाचार

chandrayaan-2

चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग आज, इसरो ने पूरी की तैयारी

नई दिल्ली : भारत का सपना आज साकार होने जा रहा है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 अंतरिक्ष में इतिहास रचने आगे पढ़ें »

वंदे भारत ट्रेन-18 आज ट्रायल के लिए हुई रवाना, यहां से यहां तक चलाई जाएगी

नई दिल्ली : दर्शनार्थियों के लिए भारतीय रेलवे जल्द ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से श्री माता वैष्णो देवी कटरा के लिए वंदे भारत एक्सप्रेस आगे पढ़ें »

External Affairs Minister S. Jaishankar

विदेेश मंत्री ने दिया आश्वासन, ईरान के कब्जे से भारतीयों को जल्द छुड़ाकर लांएगे

नई दिल्ली : केंद्रीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि वह जल्‍द ही ईरान के कब्जे से भारतीयों काे सुर‌िक्षत छुड़ाकर लायेंगे। दरअसल, ईरान आगे पढ़ें »

frenzy of mobile games

लड़की ने मोबाइल गेम के सनक में घर छोड़ा, 17 दिन में 9 शहर घूमी

नई ‌दिल्ली : उत्तराखंड के पंतनगर से 1 जुलाई को लापता हुई छात्रा कई दिनों तक 9 शहरों में घूमने के बाद घर लौट आई। आगे पढ़ें »

सीआईआई ने निर्यात की अधिक संभावना वाले इन 31 उत्पादों को किया चिह्नित

नई दिल्ली : भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने निर्यात की उच्च संभावना वाले 31 उत्पादों को चिन्हित किया है, जिनमें महिला परिधान, दवा, चक्रीय हाइड्रोकार्बन आगे पढ़ें »

chandrayaan-2

कुछ देर में चंद्रयान 2 होगा लॉन्च, पहली चंद्रमा के साऊथ पोल पर पहुंचेगा कोई देश

नई दिल्ली : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने चंद्रमा मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग रविवार शाम को 6. 43 बजे से शुरू कर दी है। आगे पढ़ें »

नेपाल सीमा पर विदेशी मुद्रा व भारतीय वोटर कार्ड के साथ संदिग्ध चीनी पकड़ाया

सिलीगुड़ी: एसएसबी रानीडांगा की 41वीं बटालियन ने नेपाल सीमा स्थित पानी की टंकी के पास से एक संदिग्ध चीनी यात्री को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आगे पढ़ें »

वेस्ट इंडीज दौरा : भारतीय टीम का ऐलान, विराट रहेंगे कप्तान, पंत होंगे विकेटकीपर

मुंबई : सीनियर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के अंगूठे में फ्रेक्चर से उबरने के बाद भारत की सीमित ओवरों की टीम में वापसी हुई है आगे पढ़ें »

Taslima Nasreen will be able to live in India for a year

एक साल और भारत में रह पाएंगी तसलीमा नसरीन

नई दिल्ली : विवादास्पद बांग्लादेशी लेखिका तसलीमा नसरीन के लिए अच्छी खबर है। उन्हें भारत में एक साल और रहने की अनुमति मिल गई है। आगे पढ़ें »

Madhya Pradesh will have to do some more days awaiting good rain

मध्यप्रदेश को कुछ दिन और करना पड़ेगा अच्छी बारिश का इंतजार

भोपाल : करीब एक सप्ताह से अच्छी बारिश का इंतजार कर रहे मध्यप्रदेश को अब झमाझम वर्षा के लिए कुछ दिन और सब्र करना पड़ आगे पढ़ें »

ऊपर