घर में झाड़ू का इस्तेमाल करते वक्त न करें ये 6 गलतियां

नई दिल्लीः घर या ऑफिस में इस्तेमाल होने वाली झाड़ू का बड़ा महत्व होता है। इसे लक्ष्मी का प्रतीक भी माना जाता है। लेकिन क्या कभी आपने गौर किया है कि झाड़ू की वजह से घर में कई बार अशुभ चीजें घटने लगती हैं। वास्तु के मुताबिक, यदि झाड़ू लगाने में या रखने सावधानी न बरती जाए तो घर की पूरी बरकत चली जाती है। अक्सर लोग झाड़ू टूट जाने के बाद भी उसे इस्तेमाल करते हैं। वास्तु के नजरिए से ऐसा करना बहुत गलत होता है। झाड़ू के एक बार टूट जाने पर उसकी तीलियों को दोबारा जोड़कर इस्तेमाल करना अशुभ होता है।

जिस अलमारी या तिजोरी में आप पैसा, जेवरात या कीमती सामान रखते हैं, उनके नीचे या बगल में कभी झाड़ू न रखें। ऐसा करने से आपके कारोबार-संपत्ति पर बुरा असर पड़ने लगता है।

घर या ऑफिस में झाड़ू को कभी भी खड़ा करके न रखें। इस अवस्था में झाड़ू बड़ी अपशगुन मानी जाती है। झाड़ू को हमेशा जमीन पर लेटाकर ही रखें। इससे आपकी जेब या बैंक बैलेंस कभी खाली नहीं रहेगा। सूर्यास्त के समय यानी शाम की पहर में झाड़ू लगाना वास्तु की नजर से अशुभ होता है। ऐसा करने से मां लक्ष्मी रूठ जाती हैं। इसलिए शाम या रात के समय घर या ऑफिस में झाड़ू न लगाएं। यदि मजबूरन ऐसा करना पड़ रहा है तो कम से कम कचरा बाहर न निकालें। उसे आप अगली सुबह बाहर निकाल सकते हैं।

झाड़ू को पश्चिम दिशा के किसी कमरे में रखना बेहद शुभ माना जाता है। इस दिशा में झाड़ू रखना सबसे अच्छा माना जाता है। इस दिशा में झाड़ू के रहने से घर में किसी भी तरह की नकारात्मक ऊर्जा का वास नहीं होता है। झाड़ू को लक्ष्मी के समान माना जाता है। इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि किसी भी इंसान का पैर झाड़ू पर न लगे। इससे लक्ष्मी का अपमान होता है। इसका अनादर होने से घर में कई तरह की आर्थिक परेशानियां आ सकती हैं। यदि आप घर या ऑफिस में इस्तेमाल होने वाली झाड़ू को बदलना चाह रहे हैं तो इसके लिए शनिवार का दिन बेहतर होता है। शनिवार को नई झाड़ू का उपयोग करना शुभ माना जाता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

देश में कुछ सप्ताह में तैयार हो सकता है कोरोना का टीका :मोदी

दुनिया में 8 टीके विकसित किये जा रहे हैं और उनका विनिर्माण भारत में होगा नयी दिल्ली: देशवासियों को खुशखबरी देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगे पढ़ें »

अयोध्या: इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट में सरकारी प्रतिनिधि को शामिल करने से कोर्ट का इनकार

नयी दिल्ली: अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए गठित इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट में किसी सरकारी प्रतिनिधि को शामिल करने का निर्देश देने से आगे पढ़ें »

ऊपर