नागरिकता (संशोधन) विधेयक के विरोध में नग्‍न प्रदर्शन, असम के मुख्यमंत्री ने संस्कृति के खिलाफ बताया

गुवाहाटीः नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ तीन लोगों ने यहां सचिवालय के पास नग्न प्रदर्शन किया। पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को सुरक्षा कर्मियों ने तत्काल वहां से हटा दिया। शुक्रवार को वायरल हुए एक रैप विडियो में तीन प्रदर्शनकारी नग्‍न होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के विरोध में नारेबाजी करते नजर आ रहे हैं। वहीं, असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा ने इस नग्‍न प्रदर्शन को राज्‍य की संस्‍कृति के खिलाफ बताया है।
लोकसभा में 8 जनवरी को नागरिकता विधेयक के पारित होने के बाद से इस विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र में फैल गया है। विधेयक में पाकिस्तान, अफगानिस्तान व बांग्लादेश के छह गैर-मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों को भारतीय नागरिकता प्रदान करने की कोशिश की गई है। पूर्वोत्तर में यह डर है कि अगर ऐसा होता है तो बाहरी लोगों के कारण क्षेत्र के स्थानीय लोगों को नुकसान होगा।
बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में संसद के समक्ष बीते महीने भी असम के 10 युवकों ने नग्न प्रदर्शन किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसएससी के पूर्व सलाहकारों की जमानत अर्जी खारिज

कोलकाता : एसएससी के दो पूर्व सलाहकार शांतिप्रसाद सिन्हा (एसपी सिन्हा) और अशोक साहा 7 दिनों के लिए सीबीआई की हिरासत में रहेंगे। सीबीआई के आगे पढ़ें »

ऊपर