राजस्‍थान में गुर्जर आंदोलन से 55 ट्रेनें रद्द, पुलिस पर पथराव किया

नई दिल्लीः राजस्‍थान में आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर आंदोलन और उग्र हो गया है। इस दौरान आंदोलनकारियों ने कई हिस्सों में प्रदर्शन के साथ-साथ खूब बवाल भी मचाया। रविवार रात को धौलपुर जिले में आगरा-मुरैना हाईवे को बंद करने के मकसद से वे बीच सड़क पर बैठ गए। इसके बाद उन्हें हटाने के लिए पुलिस पहुंची। इस दौरान भीड़ हिंसक हो गई और पुलिस पर पथराव किया, जिसमें पुलिस के चार जवान घायल हो गए। प्रदर्शनकारी यहीं नहीं रूके बल्कि पुलिस के 3 गाड़ियों में आग लगा दी। इसके बाद पुलिस ने फोर्स बुलाकर हाईवे को खाली करवाया।
आसामाजिक तत्वों का हाथ था
धौलपुर के पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने कहा, ‘कुछ असामाजिक तत्वों ने आगरा मुरैना हाईवे को बंद कर दिया। कुछ हुड़दंगियों ने हवा में गोलियां चलाईं। इन लोगों ने पुलिस की एक बस सहित 3 वाहनों को आग के हवाले कर दिया।’
सिंह के अनुसार इस दौरान हुए पथराव में 4 जवानों को चोट आईं, जिसके बाद उन्हें प्राथमिक जांच के लिए भेज दिया गया। उन्होंने कहा, ‘पुलिस ने आंदोलनकारियों को खदेड़ने के लिए हवा में गोलियां चलाईं। लगभग 1 घंटे के बाद इस राजमार्ग पर यातायात बहाल कर दिया गया।’ धौलपुर के अलावा राजस्थान के अजमेर में भी एनएच 8 पर गुर्जरों ने जाम लगाया। कोटा-जयपुर हाईवे पर भी बूंदी में सड़क जाम करने की कोशिश की गई।
कई ट्रेनें प्रभावित
बैंसला मलारना में मुंबई-दिल्ली रेल ट्रैक जाम करके पिछले तीन दिनों से धरने पर हैं। इस आंदोलन के कारण कई ट्रेनों की रफ्तार पर भी ब्रेक लगा है। कोटा डिवीजन की 55 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है वहीं 18 ट्रेनों के रूट में बदलाव किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि आंदोलन के कारण उदयपुर से हजरत निजामुद्दीन और हजरत निजामुद्दीन से उदयपुर के बीच चलने वाली रेलगाड़ी को भी रद्द कर दिया गया है। वहीं, इसी खंड में 7 ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है और 2 ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द किया गया है।
गौरतलब है कि शनिवार को राजस्थान सरकार ने बैंसला से बातचीत के लिए मंत्रियों के प्रतिनिधिमंडल को भेजा था। इसमें मंत्री बिश्वेन्द्र सिंह भी शामिल थे। उन्होंने बैंसला को कहा कि आप 10 लोगों के एक समूह को भेजिए जिससे सरकार बात कर सकें। लेकिन विश्वेन्द्र सिंह मंत्री ने सरकार के इस प्रस्ताव को मानने से इनकार कर दिया और यह बैठक बेनतीजा रही।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

जार्ज फ्लायड की मौत पर आईसीसी ने कहा, विविधता के बिना क्रिकेट कुछ नहीं

दुबई : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि ‘क्रिकेट विविधता के बिना कुछ भी नहीं है।’ उसने यह बयान अफ्रीकी मूल के आगे पढ़ें »

टेस्ट मैच में लागू होगा कोरोना सब्स्टीट्यूट, जल्द मिलेगी आईसीसी की मंजूरी

विश्व पर्यावरण दिवस विशेष : तीन दशक से पर्यावरण-जंगल की रक्षा कर रहे रामगढ़ के वीरू महतो

स्थिति ठीक होने पर ही टूर्नामेंट्स हो, आज यूएस ओपन होता है तो मैं नहीं खेलूंगा : नडाल

ट्रेडिंग के आखिरी के घंटों में गंवाया लाभ, निफ्टी 0.32% और सेंसेक्स 128.84 अंक नीचे हुआ बंद

आईडब्ल्यूएफ से मुआवजे की मांग करेंगी भारोत्तोलक संजीता चानू

दर्शकों के बिना कैसे होगा विश्व कप, उचित समय का इंतजार करे आईसीसी : अकरम

बंगाल में तूफान से भी तेज हुई कोरोना मामलों की गति, अब तक के सबसे अधिक आए मामले

पश्चिम बंगाल में बेरोजगारी की दर देश की तुलना में कम: सीएमआईई आंकड़े

एसबीआई ने 2019-20 की चौथी तिमाही में 3,581 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया

ऊपर